मनीष सिसोदिया का बयान , दिल्ली से अब तक 2 लाख 41 हजार लोगों को भेजा गया, आज भी जाएंगे 30 हजार लोग

Rohit Sharma

0 104

नई दिल्ली :– दिल्ली में कोरोना के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है। इसी बीच दिल्ली में प्रवासी मजदूरों का मुद्दा भी खूब गर्माया था। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा , ‘दिल्ली में अगर कोई भी व्यक्ति है, उसकी जिम्मेदारी दिल्ली सरकार की है।

बहुत सारे लोग कामकाज ना होने की वजह से अपने गांव लौटना चाहते थे, पिछले 7 मई से कल शाम तक दिल्ली सरकार की ओर से 2 लाख 41 हजार लोगों को ट्रेन से उनके राज्यों में भेजा जा चुका है।’

सिसोदिया ने कहा, ‘दिल्ली सरकार बहुत ध्यान से एक एक पहलू पर नजर रखे हुए हैं। लॉकडाउन की वजह से गरीब आदमी की रोजी रोटी बंद हो गई, उन सब लोगों की परेशानियों को कम करने की कोशिश कर रहे हैं। दिल्ली में अगर कोई भी व्यक्ति है, उसकी जिम्मेदारी दिल्ली सरकार की है।

उन्होंने कहा कि बहुत सारे लोग कामकाज ना होने की वजह से अपने गांव लौटना चाहते थे, पिछले 7 मई से कल शाम तक दिल्ली सरकार की ओर से 2 लाख 41 हजार लोगों को ट्रेन से उनके राज्यों में भेजा जा चुका है।

उन्होंने बताया कि 196 ट्रेन पूरे देश के अलग- अलग राज्यों में भेजी गई है। सबसे बड़ी संख्या बिहार के लोगों की है। 125711 लोग बिहार में गए हैं। यूपी में 96610 लोग गए हैं।

दिल्ली एनसीआर की सड़कों में हजारों प्रवासी मजदूरों को पैदल अपने गांव की ओर जाते देखा गया। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी प्रवासी मजदूरों से विनती है कि घर जाने के लिए कोई भी पैदल न निकले। दिल्ली सरकार आपके जाने का पूरा इंतजाम कर रही है।

उन्होने कहा, ‘जो लोग घर जाना चाहते है ऐसे सभी लोगों को पूरी सुविधा के साथ सुरक्षित घर भेजा जाएगा।जिन राज्यों से तालमेल में कोई दिक्कत आई है, दिल्ली सरकार ने ऐसे सभी राज्यों के प्रवासी मजदूरों के टिकट का खर्चा खुद उठाया है।’

Leave A Reply

Your email address will not be published.