नए मोटर व्हीकल एक्ट की मेहरबानी, लाइसेंस व प्रदुषण बनवाने के लिए लगी लम्बी कतार

ABHISHEK SHARMA

0 89
Noida (07/09/19) : मोटर व्हीकल एक्ट में चालान के रेट बढ़ते ही प्रदूषण केंद्र और एआरटीओ विभाग में लोगों की भीड़ भी बढ़ गई हैं। जी हां ऐसा ही हो रहा हैं नोएडा शहर में जहां सरकार के द्वारा नए चालान रेट लागू करने के बाद से ही शहर के अलग अलग प्रदूषण केंद्र व एआरटीओ विभाग में लाइसेंस बनाने व गाड़ी और मोटरसाइकिल का प्रदूषण कराने के लिए लोगो की भीड़ लग गई हैं।
तस्वीरो में आप साफ साफ देख सकते हैं कि किस तरह से एआरटीओ विभाग में लाइसेंस व लर्निंग के लिए लोगों की भीड़ लगी हुई हैं। यहां हाल प्रदूषण जांच केंद्र का भी जिन लोगों ने आज तक अपनी गाड़ी और बाइक का प्रदूषण नहीं करवाया था। आज वह लोग भी चालान की मोटी रकम न देने के लिए घंटो लाइन में खड़े होकर अपने वाहन का प्रदूषण करवा रहे हैं।



सड़को पर चालान कटने का डर कहिए या फिर सुरक्षा, लोग अब अपनी वाहन के सभी पेपर और सुरक्षा मानक लेकर चल रहे हैं। सरकार द्वारा मोटर व्हीकल एक्ट में संसोधन के बाद चालान में 10 गुणा तक बढ़ेतरी के बाद लोग अब अपने लाइसेंस बना रहे हैं। वाहन का प्रदूषण भी करवा रहे हैं। जो चालान अब तक सिर्फ 100 और 500 रुपये हुआ करता था अब वह सीधे 1000 और 5000 हो गया हैं। जिसके डर से नोएडा के लोग अपने अपने वाहनों का प्रदूषण करवाने के लिए घंटो प्रदूषण जांच केंद्र पर खड़े हैं।

इस बारे में जब लोगों से पुछा गया तो उन्होंने भी यही बताया कि पहले चालान रेट कम होने की वजह से वाहन का प्रदूषण नहीं करवाते थे। लेकिन रेट 10 गुणा बढ़ जाने के बाद अब वह अपना वाहन का प्रदूषण करवाने के लिए लाइन में खड़े हैं। वहीं यही हाल नोएडा के एआरटीओ विभाग का है जहां लोग अपना लाइसेंस और लर्निंग बनाने के लिए भीड़ में खड़े हैं।

लाइसेंस को लेकर एआरीटओ ए.के पाण्डे ने बताया की पहले लोगों के लाइसेंस की प्रक्रिया के लिए तीन से चार दिन तक इंतजार करना पड़ता था। जोकि अब बढ़ कर सिधे 20 से 25 दिन हो गया हैं। यहां तक की लाइसेंस बनाने के लिए लोग अधिक आ रहे हैं। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता हैं कि ट्रैफिक के नए नियमों का असर लोगों पर पड़ रहा हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.