कोरोना से डरो ना – नोएडा में अभी तक नहीं हुई कोरोना मरीज की पुष्टि, दिल्ली में 3 मामले – जानें सच्चाई

ABHISHEK SHARMA / ROHIT SHARMA

0 945

Greater Noida (03/03/2020) : नोएडा में कोरोना वायरस का खौफ बढ़ता जा रहा है। यहां जिला प्रशासन ने एक स्कूल को बंद कर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन ने 1,000 से अधिक देशी-विदेशी कंपनियों को अलर्ट नोटिस भेजा है।  वहीं आगरा में भी 6 संदिग्ध मिले है। जिसके चलते वहां पर भी हड़कंप मचा हुआ है।

नोएडा में शिव नादर स्कूल ने सर्कुलर जारी कर पैरेंट्स को स्कूल बंद होने की जानकारी भेजी है। श्रीराम मिलेनियम स्कूल को 3 दिन के लिए बंद किया गया है। दिल्ली में जिस व्यक्ति में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है उसके दोनों बच्चे श्रीराम मिलेनियम में ही पढ़ते हैं।

वहीं सीएमओ का कहना है कि दिल्ली में जिस मरीज को कोरोना की पुष्टि हुई है उसके बच्चे श्री राम मिललेनियम स्कूल में पढ़ते हैं। जिसके चलते इतनी सख्ती बरती जा रही है। हालांकि जो पीड़ित के बच्चे हैं , उनमे कोरोना के लक्षण नहीं है।

बच्चे आज स्कूल आए थे जिसके चलते अब स्कूल को भी सेनिटाइज किया जाएगा। जिसमें एक से दो दिन का समय लगेगा। उन्होंने बताया कि मेडिकल टीम ने स्कूल को ट्रिटमेंट के बारे में जानकारी दे दी गई है।

नोएडा सीएमओ अनुराग भार्गव ने बताया ज़िले की करीब 1000 कंपनियों को नोटिस भेजा गया। जिसमे सभी कंपनियों से कहा गया है कि यदि उनका कोई कर्मचारी विदेश गया है तो उसके भारत लौटने पर स्वास्थ्य विभाग को इसकी सूचना दी जाए। सीएमओ ने बताया कि ईरान, सिंगापुर, चीन समेत 13 देशों से लौटने वाले लोगों की जांच का आदेश दिए गए हैं। नोएडा में चीन, जापान, कोरिया, इटली, जर्मनी की कई नामी कंपनियां है।

जिम्स ग्रेटर नोएडा के डायरेक्टर ब्रिगेडियर गुप्ता ने बताया कि वायरस से पीड़ित व्यक्ति के बच्चों की जांच भी की गई है, बच्चों में बीमारी के लक्षण नहीं मिले हैं। 5 संदिग्धों को यहाँ सैंपलिंग के लिए लाया जाना था लेकिन पाँचों बच्चों को उनके घरों में ही आइसोलेट किया गया है। उनका कहना है कि अब तक यहाँ पर 44 मरीजों की जांच की जा चुकी है। जिनमे से करीब 35 लोगों की रिपोर्ट आ चुकी है जो कि सब नेगेटिव हैं।

वहीं सीएमओ का कहना है कि दिल्ली में जिस मरीज को कोरोना की पुष्टि हुई है उसके बच्चे श्री राम मिललेनियम स्कूल में पढ़ते हैं। जिसके चलते इतनी सख्ती बरती जा रही है। हालांकि जो पीड़ित के बच्चे हैं , उनमे कोरोना के लक्षण नहीं है। बच्चे आज स्कूल आए थे जिसके चलते अब स्कूल को भी सेनिटाइज किया जाएगा। जिसमें एक से दो दिन का समय लगेगा। उन्होंने बताया कि मेडिकल टीम ने स्कूल को ट्रिटमेंट के बारे में जानकारी दे दी गई है।

श्रीराम मिलेनियम स्कूल में आज आईसीएसई बोर्ड की गणित की परीक्षा थी। परीक्षा खत्म होते ही वहां अफरातफरी का माहौल हो गया। स्कूल प्रशासन ने कोरोना वायरस से प्रभावित होने की आशंका के बार में बोर्ड अधिकारियों को भी सूचना भेज दी है। आगे की परीक्षा के बारे में बोर्ड को फैसला लेना है।

वहीं दूसरी ऑर्डर भारत सरकार के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि नोएडा और आगरा में अभी तक कोरोना के मरीज की कोई पुष्टि नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि दिल्ली में कोरोना के 3 मरीजों की तो वहीं तेलंगाना में 1 मरीज की अब तक पुष्टि हुई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.