नोएडा प्राधिकरण की अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई जारी, गेझा में तोड़ा गया मैरिज हॉल

Abhishek Sharma

0 564

Noida (19/08/19) : नोएडा को स्मार्ट सिटी बनाने का अभियान जारी है, नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी रितु माहेश्वरी खुद इसकी मॉनीटरिंग कर रही हैं । लगातार अवैध अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई चल रही है। कार्य में लापरवाही बरतने पर सीईओ ने वर्क सर्किल चार के प्रभारी प्रबंधक मुकेश कुमार व सफाई सुपरवाइजर को निलंबित कर दिया है।

संविदा के दो जेई, सुपरवाइजर व एक केयरटेकर को बर्खास्त कर उन्होंने प्राधिकरण के अधिकारी एवं कर्मचारियों को साफ संदेश दिया है कि वे विकास में सहायक बने, बाधक नहीं। शहर में अवैध कब्जों के खिलाफ कार्रवाई आज भी जारी रही। गेझा में अवैध रूप से बने एक मैरिज हॉल को जमींदोज कर दिया गया। विरोध करने वालों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। सेक्टर 8 में भी बड़े पैमाने पर सड़कों से अतिक्रमण हटाए अतिक्रमण हटाए गए।



फेज टू मे अतिक्रमण हटाने गए दस्ते पर महिलाओं ने हमला कर दिया और जेसीबी पर चढ़कर कार्यवाही रोकने की मांग की वहां पर लोगों ने उपद्रव कर दिया जिसके बाद भारी पुलिस बल वहां पर पहुंचाया गया। इस दौरान जेसीबी तोड़ी जाने की भी खबर है।

बताया जा रहा है कि वहां पर महिलाओं ने जेसीबी पर चढ़कर उस पर वार किया एवं प्राधिकरण के दस्ते को रोकने की कोशिश की। इसके अलावा भी प्राधिकरण के दस्ते ने कई वर्क सर्किलों में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की है।

नोएडा प्राधिकरण ने सेक्टर 110 में अवैध रूप से संचालित हो रहे मैरिज हॉल को तोडा। लगातार मिल रही शिकायतों के बाद यह कार्रवाई की गई। नोएडा प्राधिकरण की जमीन पर अवैध रूप से संचालित किया जा रहा था। प्राधिकरण के एमपी सिंह के नेतृत्व में की गई कार्रवाई।

प्राधिकरण के ओएसडी एमपी सिंह ने बताया कि सेक्टर 110 गेझा गांव में तकरीबन 9000 स्क्वायर मीटर की जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया गया। पारस मैरिज हॉल के मालिक विकास गर्ग और सुरेश के घर में अवैध निर्माण किया गया है जिसको तोड़ा गया है। उन्होंने बताया कि यह नोएडा प्राधिकरण की अधिग्रहित जमीन थी, जिस पर चोरी से निर्माण कराया जा रहा था। सूचना पर इसे तोड़ा गया। उन्होंने गलत ढंग से जमीन का बैनामा किया था।

बता दे नोट आप अधिकार लगातार नोएडा अथॉरिटी के सीईओ रितु माहेश्वरी के आदेशों पर कार्रवाई कर रहा है हाल में ही सोरखा गांव में 1 पॉइंट 2500000 हेक्टर जमीन पर कब्जा मुक्त कराया गया है

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.