वार्षिक स्वच्छता सर्वेक्षण 2020: उत्तर प्रदेश में नोएडा बना अव्वल, लगाई लंबी छलांग

ABHISHEK SHARMA

0 117

स्वच्छता सर्वेक्षण में नोएडा को पूरे देश में 25वां स्थान मिला है, वहीं अगर उत्तर प्रदेश की बात करें तो नोएडा ने स्वच्छता सर्वेक्षण की रैंकिंग में पहला स्थान प्राप्त किया है। पूरे देश में इंदौर ने स्वच्छता सर्वेक्षण रैंकिंग में पहला स्थान हासिल किया है। मध्य प्रदेश का इंदौर पिछले कई सालों से पहले नंबर पर काबिज है।

स्वच्छ भारत अभियान के वार्षिक स्वच्छता सर्वेक्षण में एक से 10 लाख की आबादी में नोएडा को प्रदेश में पहला स्थान मिला है। वहीं देशभर में शहर को 25वां स्थान मिला है। बृहस्पतिवार को इस वर्ष के स्वच्छता सर्वेक्षण का परिणाम जारी किया गया है। स्वच्छता सर्वेक्षण प्रत्येक वर्ष 6000 अंकों के लिए किया जाता है। नोएडा को 4403.22 अंक मिले हैं।

नोएडा की कुल आबादी 10 लाख है। स्वच्छ सर्वेक्षण में शहर ने पिछले 2 वर्षों के दौरान लंबी छलांग लगाई है। अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वर्ष 2018 में नोएडा की रैंक 324 थी। जिसमें पिछले साल 2019 में थोड़ा सुधार दर्ज किया गया और शहर की रैंक 150 हो गई थी, लेकिन इस वर्ष लंबी छलांग लगाते हुए नोएडा की रैंक सुधरकर देश में 25 हो गई है, जबकि उत्तर प्रदेश में नोएडा शहर सबसे साफ-सुथरा माना गया है।

स्वच्छता सर्वेक्षण प्रत्येक वर्ष 6000 अंकों के लिए किया जाता है। नोएडा को इसमें से 4403.22 अंक मिले हैं। इस बार शहर के 1,40,210 लोगों ने इस सर्वेक्षण में हिस्सा लिया था।

स्वच्छ सर्वेक्षण मे इस बार लखनऊ ने ऊंची छलांग लगाई है। स्वच्छता रैंकिंग में देश में 12वें स्थान पर पहुंच गया है। पहले स्थान पर एक बार फिर इंदौर ने बाजी मारी है। दूसरे स्थान पर सूरत व तीसरे स्थान पर मुम्बई ने कब्जा किया है। नोएडा को 25 वां स्थान मिला है। गाजियाबाद पिछड़कर 19वें स्थान पर पहुंच गया है, जबकि पिछले साल 12वें पायदान पर था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.