दिल्ली में फिर से संक्रमित हो रहे हैं ठीक हो चुके कोरोना के मरीज , पढ़े पूरी खबर

ROHIT SHARMA

0 371

नई दिल्ली :– राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस का संकट नियंत्रण में माना जा रहा था , सरकारी आंकड़े इस ओर इशारा कर रहे थे कि सब कुछ ठीक हो रहा है, लेकिन अब एक और खतरे की घंटी बजती दिख रही है।

 

 

दिल्ली के कुछ अस्पतालों का कहना है कि कोविड-19 के संक्रमण से उबर चुके लोग अब फिर से संक्रमित हो रहे हैं , राष्ट्रीय राजधानी में कुछ अस्पतालों का कहना है कि कोरोना वायरस से ठीक हो चुके कुछ मरीज फिर से संक्रमित होकर उनके पास आ रहे हैं ।

 

 

दिल्ली सरकार द्वारा संचालित राजीव गांधी सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल में कोरोना से ठीक हो चुके दो मरीज फिर से संक्रमित हो गए ।

 

 

अस्पताल ने जानकारी दी कि बीते महीने की शुरुआत में ही दोनों ठीक हो गए थे. लेकिन अब फिर से उनमें लक्षण पाए गए और वह फिर से संक्रमित हो गए हैं।

 

 

दिल्ली स्थित द्वारका के आकाश हेल्थकेयर हॉस्पिटल में भी ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां कोरोना संक्रमित हो चुका शख्स संक्रमित हो गया. इतना ही नहीं इस बार उसकी मौत हो गई. बताया गया कि राज्य में कार्यरत एक पुलिसकर्मी भी कोविड पॉजिटिव पाए गए. ऐसे मामलों ने फिर से सरकार और डॉक्टरों के माथे पर बल ला दिया है ।

 

 

नगर निगम द्वारा संचालित एक कोरोना अस्पताल में कार्यरत नर्स भी संक्रमण से ठीक होने के बाद फिर संक्रमित पाई गई. दिल्ली सरकार द्वारा संचालित अस्पताल के चिकित्सा निदेशक डॉ. बी. एल. शेरवाल के मुताबिक जब तक वायरस संवर्द्धन का पता नहीं चल जाता या उसके जीन की सिक्वेंसिंग नहीं कर ली जाती है, तब तक यह पता करना मुश्किल है कि क्या वायरस के दूसरे स्ट्रेन ने व्यक्ति को दूसरी बार संक्रमित किया है?

 

दिल्ली में कोविड-19 के 787 नये मामले सामने आये जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1.53 लाख से अधिक हो गई. वहीं 18 और मरीजों की संक्रमण से मौत हो जाने से मृतक संख्या बढ़कर 4,214 हो गई।

 

 

पिछले 24 घण्टे में जांच की संख्या 14,988 है. कोविड-19 के उपचाराधीन मामलों की संख्या बढ़कर 10,852 हो गई है जो कि रविवार को 10,823 थी. इसमें कहा गया है कि मृतक संख्या बढ़कर 4,214 हो गई है जबकि संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,53,367 हो गई है. रविवार को 652 नये मामले सामने आये थे और आठ मरीजों की मौत हुई थी ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.