नोएडा  : भूख हड़ताल पर बैठे लोगों को आश्वासन देने के बाद भी नहीं पहुंचे अधिकारी व जनप्रतिनिधि, लोगों में रोष

ROHIT SHARMA /ABHISHEK SHARMA

0 132

नोएडा में पूरे सेक्टर 75 के निवासी पिछले 6 दिनों से अपनी मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर डटे हुए हैं। सैकड़ों की संख्या में लोग यहां पर पिछले 6 दिनों से अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि बिल्डर ने उनसे फ्लैट के नाम पर शत-प्रतिशत पैसा वसूल किया है लेकिन सुविधा के नाम पर उनको ठेंगा दिखाया गया है यहां पर इतनी गंदगी है कि लोगों का सांस लेना मुश्किल हो रहा है।

भूख हड़ताल पर बैठे लोगों को जिले के सांसद डॉ महेश शर्मा ने आश्वासन दिया था कि वह धरने पर बैठे लोगों के पास पहुंचेंगे एवं उनकी समस्याओं का समाधान दिलाने का प्रयास किया जाएगा, लेकिन दिल्ली में एक बैठक के चलते डॉ. महेश शर्मा भूख हड़ताल पर नहीं पहुंच सके। जिसको लेकर लोगों में रोष देखने को मिला। वहीं नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी रितु माहेश्वरी भी धरने में नहीं पहुंची। उन्होंने कहा कि बीती रात धरना प्रदर्शन खत्म होने की उनको सूचना दी गई थी।

 

नोएडा के सेक्टर 75 में यहां के निवासियों ने पिछले 6 दिन धरने पर बैठे हुए हैं। आज गौतम बुध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा व नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यपालक अधिकारी रितु माहेश्वरी ने धरने पर बैठे लोगों को उनके पास पहुंचने का आश्वासन दिया था, लेकिन व्यस्त कार्यक्रम के चलते कोई भी अधिकारी व जनप्रतिनिधि धरने पर बैठे लोगों के पास नहीं पहुंचा।

जबकि नोएडा प्राधिकरण से जवाब आया कि कल रात उन्हें सूचना मिली की धरने पर बैठे लोगों ने धरना समाप्त कर दिया है। जबकि जिले के सांसद डॉ महेश शर्मा दिल्ली में बैठक के चलते धरने पर नहीं पहुंच पाए। जिसके चलते महिलाओं में आक्रोश देखने को मिला वहीं लोगों का कहना है कि सब लोग बिल्डर के साथ मिले हुए हैं, एवं उनको यहां के निवासियों की कोई चिंता नहीं है।

बता दें कि पिछले 6 दिनों से सेक्टर 75 की सोसाइटी में रहने वाले लोग बिल्डर की परियोजनाओं से परेशान होकर भूख हड़ताल पर बैठे हुए हैं। उनका कहना है कि यहां पर गंदगी का अंबार लगा हुआ है। जिसके चलते लोग बीमारियों से ग्रस्त हैं।

लोगों का कहना है कि वरिष्ठ नागरिक अक्सर लिफ्ट में फंसने की समस्याओं से परेशान रहते हैं। कभी भी लाइट चली जाती है, लिफ़्ट ऊपर से नीचे आकर रूकती है। ह्रदय रोगी लोगों के लिए यह एक बड़ी समस्या है। किसी की भी जान जा सकती है। भूख हड़ताल पर बैठे लोगों का कहना है कि जब तक उनकी मांगों को नहीं माना जाता, तब तक वह भूख हड़ताल पर बैठे रहेंगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.