मर कर भी 5 लोगों को जिंदगी दे गई बच्चों के भविष्य को संवारने वाली शिक्षिका

Tennews Team

0 177

बच्‍चों को भविष्‍य की राह दिखाने वाली टीचर मरकर भी कई लोगों को जिंदगी देे गई। अलीगढ़ के मेरिस रोड निवासी शिक्षिका पूजा भार्गव (44) को नोएडा सेक्टर-62 स्थित फोर्टिस अस्पताल के डॉक्‍टरों की टीम ने बुधवार को आधी रात को ब्रेन डेड घोषित किया। ब्रेन डेड घोषित होने के बाद महिला के हृदय, फेफड़े, लिवर और किडनी जरूरतमंद मरीजों को दान किए गए।

महिला के अंगो को गुरुवार को ट्रांसप्लांट के लिए देश के चार शहरों में पांच रोगियों को भेजा गया था। महिला का हार्ट चेन्नई के एक मरीज के लिए भेजा गया। फेफड़े को मुंबई भेजा दिया गया। नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में ही दो मरीजों को एक किडनी और लीवर मिला।

इनमें से हृदय को चेन्नई, फेफड़े को मुंबई पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाकर आईजीआई एयरपोर्ट दिल्ली भेजा गया। वहीं, एक किडनी को दिल्ली के शालीमार बाग स्थित फोर्टिस अस्पताल पहुंचाया गया।

पूजा को ब्रेन हेमरेज होने से 14 जनवरी को नोएडा फोर्टिस अस्पताल लाया गया था। बाद में उन्हें ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया। महिला के अंग जरूरतमंदों के काम आ सकें, इसे देखते हुए परिवार ने गुरुवार को हृदय, फेफड़े, लिवर और किडनी दान करने का निर्णय लिया।

फोर्टिस अस्पताल के डॉक्‍टरों ने बताया कि दोपहर 2 बजे हृदय को शरीर से अलग कर लिया गया। फोर्टिस से 48 किलोमीटर लंबा ग्रीन कॉरिडोर बनाकर 36 मिनट में आईजीआई एयरपोर्ट तक पहुंचाया। फेफड़े दोपहर 2:20 बजे शरीर से अलग किए।

इसके बाद अस्पताल से आईजीआई एयरपोर्ट तक दूसरा ग्रीन कॉरिडोर बनाकर पहुंचाया गया। हृदय विमान से चेन्नई में एमजीएम हेल्थकेयर और फेफड़े को मुंबई के एचएन रिलायंस अस्पताल तक पहुंचाया गया।

वहीं, एक किडनी फोर्टिस अस्पताल शालीमार बाग के मरीज को दी गई। इसके अलावा लिवर और एक किडनी नोएडा फोर्टिस अस्पताल में भर्ती दो मरीजों को दी गई। अस्पताल के डॉक्टर विवेक विज ने लिवर ट्रांसप्लांट और डॉ. अनुजा पोरवाल व डॉ. दुष्यंत नाडर ने किडनी ट्रांसप्लांट की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.