गौतमबुद्ध नगर में शुरू हुआ मिशन संजीवनी कार्यक्रम, जोमैटो कंपनी करेंगी दवाइयों का वितरण

Ten News Network

0 272

गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एलवाई ने जिले में बढ़ते कोरोना को लेकर मिशन संजीवनी कार्यक्रम का उद्घाटन किया है, इस कार्यक्रम में सहयोग करने के उद्देश्य से जोमैटो कंपनी भी स्वेच्छा से आगे आई है।

 

जोमैटो कंपनी के माध्यम से होम आइसोलेशन के मरीजों को दवाइयों की किट उन तक पहुंचाने में जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग का सहयोग प्रदान किया जाएगा। इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम की शुरुआत जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने आज मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय परिसर से जोमैटो कंपनी के सदस्यों को दवाइयों की किट उपलब्ध कराते हुए हरी झंडी दिखाकर उनकी टीम को रवाना किया।

 

जोमैटो कंपनी के सदस्यों द्वारा निर्धारित स्थानों पर होम आइसोलेशन के मरीजों को यह दवाई की किट उपलब्ध कराई जाएगी। इस कार्य के लिए जिला अधिकारी सुहास एल वाई ने कंपनी के पदाधिकारियों को धन्यवाद दिया है। इस विषय पर जिला अधिकारी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वर्तमान में लगभग 4000 कोरोना संक्रमित व्यक्ति होम आइसोलेशन में हैं।

सभी कोरोना संक्रमित नागरिकों को उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार दवाइयां उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आज यह महत्वपूर्ण कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। इससे पूर्व भी होम आइसोलेशन के मरीजों को निर्धारित मानकों के अनुरूप दवाइयां उपलब्ध कराई जा रही थी।

 

जोमैटो कंपनी के आगे आने पर स्वास्थ्य विभाग एवं प्रशासन को और अधिक सहयोग प्राप्त होगा एवं सभी संक्रमित मरीजों को होम आइसोलेशन के दौरान कम समय में दवाइयां उपलब्ध हो सकेंगी।

 

जिलाधिकारी ने इस अवसर पर कहा कि जोमैटो कंपनी के लिए निर्धारित क्षेत्र चिन्हित करते हुए होम आइसोलेशन में दवाइयां उपलब्ध कराने की कार्यवाही स्वास्थ्य विभाग के द्वारा सुनिश्चित की जाए तथा अन्य स्थानों पर स्वास्थ्य विभाग एवं अन्य विभागीय कर्मचारियों के माध्यम से कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुरूप सभी कोरोना के संक्रमित मरीजों को समय पर दवाइयां उपलब्ध कराने की कार्रवाई सुनिश्चित करें।

 

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर दीपक अहोरी तथा स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारीगण एवं जिला पंचायत राज अधिकारी कुंवर सिंह यादव उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.