बिल्डर-बायर्स की बैठक में आम्रपाली के वकील बन पहुँचे बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता, हताश बायर्स ने सरकार की नियत पर उठाए सवाल

Lokesh Goswami Ten News

105

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आज नॉएडा के सैक्टर 15 A में स्थित क्लब में आम्रपाली के विभिन्न प्रोजेक्ट्स के बायर्स और आम्रपाली बिल्डर के बीच महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में नॉएडा अथॉरिटी के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

जैसा की ज्ञात है सुप्रीम कोर्ट में आम्रपाली का केस विचाराधीन है और माननीय कोर्ट भी मामले को लगातार देख रही है। सुप्रीम कोर्ट के कहने पर ही आम्रपाली बिल्डर, बायर्स और अथॉरिटी के अधिकारियों ने आज ये मीटिंग आयोजित की थी। मीटिंग में ये तय होना था की आम्रपाली के किस प्रोजेक्ट में कितना काम बाकी है और वो उसे कब तक पूरा कर पाएंगे।

आम्रपाली चेयरमैन अनिल शर्मा भी इस बैठक में मौजूद रहे हालांकि बायर्स का कहना था की बार बार पूछे जाने पर भी उनकी तरफ से प्रोजेक्ट के कम्पलीशन या डिलीवरी की कोई तिथि नहीं बताई जा रही थी।

नोएडा- ग्रेटर नोएडा में आम्रपाली के 15 से ज्यादा प्रोजेक्ट हैं जिनमे 40 हज़ार से ज्यादा लोगों के पैसे फंसे हैं। वहीं कई बायर्स ऐसे भी हैं जिनका कहना है कि बायर्स की नियत कतई ऐसी नहीं लगती की वो घर देने के मूड में है। हालांकि आम्रपाली के डायरेक्टर अपनी नियत साफ बता रहें हैं। डायरेक्टर का कहना है कि कोशिश लगातार जारी है और जल्द ही लोगों को उनके घर मिलने शुरु हो जाएंगे। सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद चीजें एक्शन मोड में लग रहीं हैं, जाहिर है बायर्स की अब आखिरी उम्मीद भी सुप्रीम कोर्ट ही है।

बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया रहे मौजूद, लड़ रहे हैं आम्रपाली का केस :

कुछ बायर्स ने इस बात पर भी आपत्ति जताई कि बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया आम्रपाली के बकील बनकर आये है। गौरव के जरिए बायर्स ने सरकार की नीयत पर सवाल खड़े किए-साथ ही कहा की सरकार की दोगली नियत इस तरह साबित हो रही है। एक तरफ तो सरकार बायर्स को उनका आशियाना दिलाने की बात करती है। दूसरी तरफ गौरव भाटिया आम्रपाली का केस लड़ रहे है।

You might also like More from author