5 महीने में महिला के खाते से उड़ाए 5.15 लाख

Abhishek Sharma

0 241

 

नॉएडा के सेक्टर-41 में रहने वाले एक बुजुर्ग व्यक्ति की पत्नी के खाते से 6 महीने में साइबर क्राइम के जरिये 5.15 लाख निकालने का मामला सामने आया है। वरिष्ठ नागरिक सुधीर रस्तोगी की पत्नी के सेक्टर-62 में कोर्पोरशन बैंक के खाते से 6 महीने में 62 बार में ये रकम निकाली गई है। फरवरी से जून के महीने के दौरान नॉएडा, दिल्ली, गाजियाबाद व ग्रेटर नॉएडा
के 12 एटीएम से ये रकम निकली गयी है। इस दौरान बुजुर्ग दंपत्ति के पास एटीएम से पैसे निकलने का मेसेज भी नहीं आया।

23 सितम्बर को जब वह अपनी पत्नी के साथ खाते की पासबुक अपडेट करने बैंक पहुंचे तो उन्हें इस फर्जीवाड़े के बारे में पता चला। फर्जीवाड़े की जानकारी होने पर जब उन्होंने पत्नी के डेबिट कार्ड से 100 रूपये निकाले तो ट्रांजेक्शन का मेसेज तुरंत उन्हें तुरंत मिल गया। एटीएम कार्ड क्लोनिंग कर पैसे निकाले जाने की आशंका जताई जा रही है। पीड़ित ने इस मामले में बैंक प्रबंधन का हाथ होने की भी आशंका जताई है। इस मामले की एफआईआर कोतवाली सेक्टर-58 में दर्ज कराइ गई है। पुलिस रिपोर्ट दारज कर मामले की जांच कर रही है। पीड़ित ने बताया कि उनके खाते से मोबाइल नंबर भी लिंक कराया गया है जिसके बावजूद साइबर ठग 62 बार पैसे निकालने में कामयाब रहे और उन्हें इसका कोई मेसेज भी नहीं मिला।

कारपोरेशन बैंक के ब्रांच मैनेजर ने कहा कि पीड़ित के खाते में 15 हजार से ज्यादा जमा होने वाली रकम पांच हजार की यूनिट में एफडी बनती है। ग्राहक चाहे तो एटीएम और चेकबुक के माध्यम से यह रकम निकाल सकता है। पीड़ित को सभी मेसेज बैंक द्वारा भेजे गए हैं, लेकिन उन्होने मेसेज मिलने से मना किया है। मामले की जांच बैंक भी अपने स्तर से कर रहा है।
वहीं, कोतवाली प्रभारी इंस्पेक्टर पंकज राय ने बताया कि मामले की शिकायत के आधार पर आईटी एक्ट समेत अन्य धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है

Leave A Reply

Your email address will not be published.