पेट्रोल-डीजल पर तीन रुपये बढ़ी एक्साइज ड्यूटी पर आप पार्टी ने बीजेपी को घेरा

Lokesh Goswami Tennews New Delhi :

0 195

पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क में तीन रुपये बढ़ोतरी को लेकर आप पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्डा ने मोदी सरकार पर निशाना साधा । आज उन्होंने प्रेस वार्ता करते हुए कहा कि आज ऐसे देश मे रहते हैं , जहां जहाज में डलने वाला ईंधन सस्ता और पेट्रोल-डीजल महंगा है ।

साथ ही उन्होंने कहा कि पेट्रोल लगभग 70 रु और एविएशन ईंधन लगभग 56 रुपए है। ये सरकार अमीर के लिए है या गरीब के लिए?
बेरोजगारी की दर 40 साल का रिकॉर्ड तोड़ चुकी है।

अंतरराष्ट्रीय नज़र में कच्चे तेल के दाम घटेंगे तो हमारे देश मे पेट्रोल और डीजल के दाम घटने चाहिए , लेकिन मोदी सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी के बहाने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा दिए गए हैं।

साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार बनी तब से अबतक 55℅ दाम कच्चे तेल के अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कम हुए , लेकिन जनता को राहत नही मिली ।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत के मुताबिक दिल्ली में पेट्रोल प्रति लीटर 39.67 रु मिलना चाहिए और डीजल प्रति लीटर 31.58 रूपए मिलना चाहिए , लेकिन मोदी सरकार ने लाभ जनता तक नही पहुंचने दिया।

पेट्रोल और डीजल का दाम अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में 15 साल पहले जो था, वो आज है । मोदी सरकार ने बार बार एक्साइज ड्यूटी बढ़ाकर अबतक 16 लाख करोड़ का खज़ाना बनाया है।

बीजेपी की मई 2014 में सरकार बनी थी , तब डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 3.56 रुपए थी, जबकि आज वो बढ़कर 18.80 रूपए कर दी गयी है । मोदी सरकार आम जनता की जेब मे डाका डाल रही है । जब बीजेपी की सरकार बनी 2014 में तब पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 9.40 रु थी, जो अब बढ़कर 22.90 रूपए हो गयी है ।

आम आदमी पार्टी मांग करती है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में आई गिरावट के मुताबिक जनता को लाभ पहुंचाए । मोदी सरकार और 16 लाख करोड़ रूपए जनता पर खर्च किये जायें। दिल्ली में पेट्रोल प्रति लीटर 39.67 रुपए और डीजल प्रति लीटर 31.58 रूपए करे मोदी सरकार ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.