ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर में बाराही मेला में कलकारों ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का सन्देश देकर , राजस्थानी कलकारों ने मचाई धूम

0 186

GREATER NOIDA LOKESH GOSWAMI ग्रेटर नोएडा। सूरजपुर में चल रहे प्राचीन बाराही मेले में भारी भीड़ उमड़ रही है ।  सांस्कृतिक मंच पर  उत्तर प्रदेश,राजस्थान, हरियाणा के कलाकारों   रंगारंग प्रस्तुती दी।   मेले में लगे गोल्डन भारत सर्कस का  “कालू ” बकरा अपना  करतब दिखा कर लोगों को रोमांचित कर रहा है। सांस्कृतिक कार्यक्रम के क्रम में रागिनि गायक देवेन्द्र अल्लीपुर और अनुराधा शर्मा  एंड पार्टी  ने रागिनि कार्यक्रम की प्रस्तुती देते हुए “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” का सन्देश दिया । इससे पहले लोक कला  संस्कृति मंच पर राजस्थान से आये  अब्दुल एंड पार्टी के कलाकरोंं ने  कालबेलाई, कच्ची घोड़ी, घूमर, नागिन डांस   का बेहतरीन प्रदर्शन कर समां बांध दिया। राजस्थान से ही आये लठ भांगड़ा बीन पार्टी के कलाकारों ने “लठ भांगड़ा” और “आग की फुआर”  का अनूठा प्रदर्शन कर दर्शकों को रोमांचित किया।उत्तर प्रदेश के कलाकारों ने   “सुनो ब्रज की कहानी, लोगों मेरी जुबानी”  नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों को बज्र की कहनियों से रूबरू कराया। इसमें भगवान श्री  कृष्ण – और यशोदा मैया का संवाद ” मैया मोरे, मैं नहीं माखन खायो” दर्शकों के दिल को छू गया।  डांस इण्डिया डांस का कलाकार कुलदीप ने “बूगी-बूगी” पर डांस कर सबका मन मोह लिया।हरियाणा से आई रागिनी कलाकार अनुराधा शर्मा ने “बेटी बचाओ ” विषय के तहत  कन्या भ्रूण हत्या के  दुष्परिणाम  को  रागिनी के माध्यम से कुछ यूं  सुनाया ” बहु किसी के नहीं मिले, छोरी ने मरवाओगे, तुम रंडवे खड़े लखवओगे ” .रागिनी कलाकार देविंदर अल्लीपुर और अनुराधा शर्मा की जोड़ी ने ऐतहासिक “पूरनचंद” प्रसंग पर रागिनी सुनाई – “उठ क्यों तले पड़ी मेरी नार, मैं मैंने मतना छेड़े भर्तार । तेरे से मैं बोलना न चाहती अँधेरे गुब्बार, महल मैं दिया ना बाती।“कालू” का  करतब दर्शकों को कर रहा है रोमांचित मेले  में लगे गोल्डन  भारत सर्कस का  बकरा “कालू ” भी अपने करतब से लोगों को रोमांचित कर रहा है। अपने मास्टर राशिद  के इशारे पर कालू बकरा नट कलाकार की तरह दो खम्बो  के बीच बंधे पतले रस्सी पर संतुलन बनाकर अपने चार पैरों से चलता है  और दर्शकों की तालियां स्वत: बजने लगती हैं। दो खम्बे  के बीच बंधी  रस्सी पर लगे एक डिस्क पर  जब वो अपने चारों पैर रख कर संतुलन बनाते हुए  खड़ा हो जाता है , दर्शक रोमांचित हो उठते हैं।24gnd-29  इधर बाराही मेला देखने दूर दराज क्षेत्र से लोगों का जनसैलाब उमड़ा। लोगों ने झूला सर्कस, चाट पकौड़ी का भरपूर लुत्फ उठाया। बच्चों की भीड़ खिलौने के स्टाल्स पर दिखी वहीं महिलाएं श्रृंगार के स्टाल्स पर खरीदारी करती नजर आई।  शिव मंदिर सेवा समिति के मीडिया प्रभारी मूलचंद शर्मा ने बताया श्रद्धालुओं  के लिए  मेला परिसर में स्थित मंदिर में माँ बाराही देवी के दर्शन के लिए विशेष व्यवस्था की गयी है। रोजाना सुबह -शाम को आरती की जाती है।  चमत्कारिक सरोवर  में नहाने के लिए समिति की और से विशेष प्रबंध किया गया है।  इस मौके पर  शिव मंदिर सेवा समिति के अध्यक्ष श्री धर्मपाल भाटी, महासचिव ओमवीर बैसला, मूलचद आर्य, लक्ष्मण सिंघल, नवीन देवधर,  जगदीश भाटी, टेकचंद प्रधान, राजपाल खटाना, संजय जोगी, भूदेव शर्मा,  भीम खरी, भंवर सिंह आदि मौजूद रहे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.