यमुना एक्सप्रेस-वे पर हर एक किलोमीटर की दूरी पर लगाए जाएंगे सीसीटीवी कैमरे

ABHISHEK SHARMA

0 92

यमुना एक्सप्रेस-वे पर अब गाड़ी चलाने की अधिकतम गति सीमा 100 किलोमीटर प्रति घंटे तय कर दी गई है। इससे ऊपर गाड़ी चलाने पर चालान होगा। इसके अलावा ओवरस्पीड वाहनों पर निगरानी रखने और चालान काटने के लिए यातायात पुलिस के कैमरा वेस्ट चालान सिस्टम और परिवहन विभाग को इंटरसेप्टर से कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं।

जिले में सड़क सुरक्षा के उपाय सुनिश्चित करने के लिए कलेक्ट्रेट में हुई बैठक में इस बारे में निर्णय लिए गए हैं। जेपी इंफ्राटेक को ओवर स्पीड वाहनों पर निगरानी रखने के लिए 2 महीने में हर 1 किलोमीटर पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए गए हैं।

वहीं 10 से 15 साल पुराने वाहनों के खिलाफ कार्रवाई तेजी के साथ शुरू करने का भी फैसला लिया गया है। इसके अलावा यमुना एक्सप्रेस वे के अलावा बाकी सड़क जो पीडब्ल्यूडी के तहत आती हैं, उन सभी पर रोड साइन लगवाने के भी निर्देश दिए गए हैं।

जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति का जिला विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति की बैठक में एडीएम प्रशासन दिवाकर सिंह ने बताया कि सड़क सुरक्षा के लिए जेपी इंफ्राटेक को सुरक्षित करने के निर्देश दिए गए हैं।

इस बैठक में एआरटीओ प्रवर्तन, डीआइओएस, बीएसए यात्री कर अधिकारी, ग्रेटर नोएडा व यमुना प्राधिकरण के अधिकारी समेत अधिकारी भी शामिल हुए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.