ग्रेटर नोएडा समेत एनसीआर में आज से डीजल जनरेटर पर पूरी तरह से रोक, यह है वजह

ABHISHEK SHARMA

0 326

Greater Noida (15/10/19) : दिल्ली-एनसीआर में आज से “जीआरएपी” लागू हो रहा है। इसके तहत दिल्ली समेत नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और फरीदाबाद में भी डीजल जेनरेटरों पर रोक रहेगी। बीते दो सालों से यह नियम में दिल्ली में तो लागू हो रहा था, लेकिन एनसीआर के अन्य शहर इससे अलग थे। इस बार ईपीसीए ने कड़ा रुख अपनाते हुए कहा है कि दिल्ली में तभी प्रदूषण खत्म हो सकता है, जब आसपास के शहर भी नियमों को मानें।

हालांकि, अब भी एनसीआर के शहर पूरी तैयारी न होने की बात कहकर नियम में छूट की मांग कर रहे हैं। ईपीसीए को गौतमबुद्ध नगर, गुरुग्राम से लेटर मिले हैं, जिसमें कहा गया है कि वे इस समय डीजल जेनरेटरों पर रोक नहीं लगा सकते।



हालांकि ईपीसीए ने साफ किया है कि वे तैयारी पूरी कर लें और इस बार छूट नहीं दी जा सकती। जानकारी के अनुसार, गुरुग्राम और नोएडा में स्थिति काफी बुरी है। अभी तक गुरुग्राम के कई सेक्टर ग्रिड से नहीं जुड़े हैं। बताया जा रहा है कि इनमें सेक्टर-1 से सेक्टर-58 शामिल हैं।

इन सेक्टरों की कई सोसायटियों, मॉल्स में बिजली पूरी तरह डीजल जेनरेटरों से ही चल रही है। बिजली कनेक्शन तक नहीं लिए गए हैं। यही स्थिति गौतमबुद्ध नगर की भी है। ऐसे में सोसायटियों में रहने वाले लोग खासे परेशान हैं। खासतौर पर हाईराइज बिल्डिंगों में रहने वाले लोग इससे ज्यादा परेशान हैं।

नोएडा में कई सोसायटियों के बिल्डर प्रबंधन ने इस बारे में नोटिस भी चस्पा कर दिए हैं। इमरजेंसी सेवाओं और लिफ्ट के लिए यह नियम लागू नहीं होगा। उत्तर प्रदेश पॉलुशन कंट्रोल बोर्ड ने बिजली विभाग को 24 घंटे सप्लाई देने का निर्देश जारी किया है। नोएडा का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स सोमवार को 276 और ग्रेटर नोएडा का 296 पॉइंट दर्ज किया गया। ऐसे में शहर में डीजल जेनरेटर सेटों को बंद करना लाभदायी हो सकता है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.