ग्रेटर नोएडा : कांग्रेस ने योगी के नाम ज्ञापन सौंपकर मजदूरों के लिए बसें चलाने की अनुमति की मांग

Abhishek Sharma

0 87

ग्रेटर नोएडा : जिला व शहर कांग्रेस गौतम बुद्ध नगर के नेतृत्व में मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन सौंपा गया। इस ज्ञापन को सौंपते वक्त प्रदेश महासचिव वीरेंद्र सिंह गुड्डू मौजूद रहे। जिसमें मांग की गई कि कांग्रेस पार्टी द्वारा जो 1000 बसें चलाने की अनुमति मांगी थी उसको उत्तर प्रदेश सरकार ने अनुमति नहीं दी है।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी ने बताया कि आज कोरोना महामारी की वजह से चौतरफा अराजकता फैली हुई है। लाखों की तादात में उत्तर प्रदेश के श्रमिक और कामगार दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं। प्रदेश के तमाम हाईवे पर हजारों श्रमिकों के भूखे प्यासे इस भयंकर में पैदल चल रहे हैं। 60 से अधिक मजदूरों की सड़क दुर्घटना में मौत हो चुकी है।

आए दिन सड़कों पर दुर्घटनाओं की दिल दहलाने वाली तस्वीरें आ रही है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर 1000 बसों को चलाने की अनुमति मांगी थी। कांग्रेस पार्टी ने 500 बसों को राजस्थान और उत्तर प्रदेश के बॉर्डर रोड पर खड़ा कर दिया है लेकिन मजदूर विरोधी भाजपा सरकार ने अनुमति नहीं दी है।

उनका कहना है कि इस आपदा में सबको मिलकर लड़ना है। हम मुख्यमंत्री से निवेदन करते हैं। हमने जिला अधिकारी को ज्ञापन देकर निवेदन किया कि मजदूर भाइयों के लिए बस चलाने की अनुमति प्रदान करने की कृपा करें।

प्रदेश महासचिव वीरेंद्र सिंह गुड्डू ने कहा कि जिस तरह से सड़कों पर मजदूर भूखे प्यासे परेशान है, उसको देखते हुए सरकार को उनकी भलाई के लिए जल्द से जल्द कदम उठाना चाहिए।

जिला अध्यक्ष मनोज चौधरी ने कहा कि यह मजदूरों के साथ बहुत ही बड़े धोखेबाजी है कि उनको घर तक पहुंचाने के लिए ना बसों की व्यवस्था है ना खाने पीने की व्यवस्था है और अगर कांग्रेस पार्टी उसमें मदद कर रही है, वह चाहती है कि हम बसों से या दूसरे साधनों से उनको घर पहुंचे, तो उसमें भी सरकार सहयोग नहीं कर रही है।

शहर अध्यक्ष शहाबुद्दीन ने कहा कि जो राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने मजदूरों की भलाई के लिए मांग की है उनको सरकार को तुरंत मारना चाहिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.