- Advertisement -

कोविड के नोडल अफसर नरेंद्र भूषण ने गौतम बुद्ध नगर में संक्रमण बढ़ने की जताई आशंका, दिए यह जरुरी निर्देश

78

ग्रेटर नोएडा। शासन ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण को गौतमबुद्ध नगर का कोविड-19 का नोडल अफसर बनाया है। बुधवार को नोडल अफसर ने डीएम, एडीएम, सीडीओ व स्वास्थ्य महकमे के सभी अधिकारियों से ऑनलाइन बैठक की और जिले के हालात पर चर्चा की। उन्होंने जिले में 15 से 18 साल के किशोरों, 60 साल से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों और फ्रंट लाइन वर्करों को बूस्टर डोज लगाने के निर्देश दिए।

नरेंद्र भूषण ने 20 जनवरी तक 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी व्यक्तियों को टीके की प्रथम डोज लगाने के निर्देश दिए। साथ ही जिनको पहली डोज लग चुकी है, उनको इसी अवधि में दूसरी डोज लगा दिए जाएं। जिले में 15 से 18 वर्ष तक के किशोरों को अतिशीघ्र दूसरी डोज लगा दी जाए। जिलाधिकारी सुहास एलवाई और सीडीओ अनिल कुमार सिंह की मौजूदगी में हुई वर्चुअल मीटिंग में नोडल अफसर ने कहा कि सेक्टर व देहात की सभी निगरानी समितियों को फिर से एक्टिव कर दिया जाए। उनसे नियमित रिपोर्ट प्राप्त करें। निगरानी समितियों से टीकाकरण पर भी रिपोर्ट लेकर उस पर अमल करें। इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर को 24 घंटे सक्रिय रखें। किसी भी मरीज को होम आइसोलेशन से अस्पताल में शिफ्ट करने में देरी न करें, इसके लिए जरूरी है कि होम आइसोलेशन वाले मरीजों से चिकित्सक लगातार संपर्क में रहें। नरेंद्र भूषण ने कोविड के इलाज में जीवन रक्षक दवाओं की उपलब्धता, कोविड संक्रमित मरीजों को मेडिसिन किट, ऑक्सीजन प्लांट को क्रियाशील करने, आईसीयू बेड व एंबुलेंस की उपलब्धता की भी समीक्षा की। उन्होंने आरटी-पीसीआर जांच, ट्रूनेट व एंटीजन टेस्ट और बढ़ाने के निर्देश दिए। नोडल अफसर ने रैन बसेरा व अलाव के इंतजामों की भी समीक्षा की। उन्होंने 15 जनवरी से चुनावी रैलियों के चलते कोरोना संक्रमण बढ़ने की आशंका जाहिर की, इसके लिए जिलाधिकारी से आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए। नरेंद्र भूषण बुधवार सुबह नोएडा के सेक्टर 127 स्थित इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर का निरीक्षण करने जाएंगे। ऑनलाइन बैठक में जिलाधिकारी व सीडीओ के अलावा एडीएम (वित्त), एडीएम (भू अध्याप्ति), सीएमओ, जिम्स के निदेशक, सीएमएस सहित कई अधिकारीगण मौजूद रहे।

Comments are closed.