अपराध करोगे तो हो जाए होशियार , अब हो रही है एनएसए की कार्यवाही , जिला प्रशासन का कड़ा रुख

ROHIT SHARMA

153

गौतमबुद्ध नगर :– जिला प्रशासन ने गैंगेस्टर रॉबिन पर एनएसए लगाकर बडी कार्यवाही को अंजाम दिया है। दरअसल 31 जनवरी को ग्रेटर नोएडा में स्थित ओप्पो कंपनी में फायरिंग कर एक गॉर्ड को रॉबिन द्वारा गोली मार दी गई थी, जिसके कारण विदेशी कंपनी के अधिकारियों में दहशत बैठ गई थी, वही इस मामले में जिला और पुलिस प्रशासन द्वारा आरोपी के खिलाफ कार्यवाही की गई थी, वही आज आरोपी रॉबिन के ऊपर एनएसए लगा दिया है। दो देशों के सम्बंध बिगड़ने की संभावना और विदेशी कंपनी के अधिकारियों में दहशत फैलाने को लेकर कार्यवाही की गई है। उत्तर प्रदेश में इस तरह के मामले में पहला एनएसए लगाया गया है ।



वही दूसरी तरफ आज गौतमबुद्ध नगर के जिला अधिकारी और एसएसपी ने प्रेस वार्ता करते हुए इस मामले की जानकारी दी | उनका कहना है की जनपद गौतमबुद्धनगर में लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 को शान्तिपूर्वक संपन्न कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन द्वारा निरंतर रूप से व्यापक स्तर पर कार्यवाही की जा रही है। इसी श्रंखला में जनपद के 10 गुण्डों पर गेंगस्टर लगाया गया है। उन्होंने बताया की ये लोग अपने साथियों के साथ मिलकर अपने परिवार की जीविका के लिए गुण्डागर्दी के बल पर गोली चलाकर लूटपाट कर अवैध धन इकट्ठा करते है और कोई भी व्यक्ति द्वारा इनके विरूद्ध मुकदमा लिखाने का साहस नही करता है एवं इनके द्वारा आम जनता को हानि पहॅुचाते है व जनता में भय व आक्रोश व्याप्त है, इसी क्रम में इनके ऊपर गैंगस्टर की कार्यवाही की गयी है।

जिला मजिस्ट्रेट बीएन सिंह ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की रिपोर्ट के आधार पर सचिन पुत्र महेन्द्र उर्फ मिन्दर, अरूण पुत्र कटार, अरूण उर्फ गुलजार पुत्र हेमसिंह निवासी इमलिया थाना ईकोटेक प्रथम गौतमबुद्धनगर, आजाद उर्फ अज्जू पुत्र रघुराज सिंह उर्फ उदयराज निवासी तिलडेरी थाना सिकन्द्राबाद, रोविन पुत्र जयप्रकाश निवासी घिटोरा थाना खेकड़ा जिला बागपत, मोहित पुत्र धर्मसिंह, सतपाल पुत्र लीला गुर्जर, वीरे उर्फ वीरेन्द्र पुत्र लीला गुर्जर, निवासी खानपुर थाना ग्रेटर नोएडा, सुनील पुत्र राधे नागर इमलिया थाना इकोटेक प्रथम, रोहित पुत्र धर्मवीर निवासी घंघौला थाना ग्रेटर नोएडा गौतमबुद्धनगर पर गैंगेस्टर लगाया गया है।

जिला अधिकारी ने इस संबंध में बताया कि जनपद में आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों के विरूद्ध निरंतर रूप से कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है। अतः भविष्य में यह कार्यवाही प्रस्तावित रहेगी और जो माफिया/अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति हैं उन पर गुंडा एक्ट एवम गैंगस्टर तथा जिला बदर करने की कार्यवाही करने के साथ-साथ अन्य सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी।

वही दूसरी तरफ उन्होंने बताया कि आचार संहिता लागू होने के बाद प्रशासन और इनकम टैक्स विभाग बैंक से किए जाने वाले हर बड़े लेन-देन पर नजर रख रहा है। एक से 10 लाख रुपये तक के लेनदेन पर बैंक डीएम और इनकम टैक्स विभाग को सूचना दे रहे हैं।

दरअसल डीएम बीएन सिंह ने जिले के सभी निजी और सरकारी बैंकों के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि काफी समय से निष्क्रिय खाते में चुनाव के दौरान जमा या निकासी बढ़ गई है तो उसकी सूचना तुरंत डीएम आफिस और इनकम टैक्स विभाग को दी जाए। किसी बैंक ने इसकी जानकारी नहीं दी और प्रशासन को किसी और तरह से पता चल गया तो बैंक अधिकारी पर कार्रवाई की जाएगी।

साथ ही उम्मीदवारों को लेकर उन्होंने कहा है कि चुनावी मैदान में उतरे उम्मीदवारों को मंगलवार को अपने खर्च रजिस्टर का सत्यापन व्यय प्रेक्षक से कराना होगा। वह सुबह 10 बजे से 5 बजे तक उम्मदवारों के रजिस्टर चेक करेंगे। अपना व्यय रजिस्टर नहीं दिखाने वाले उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव आयोग कार्रवाई करेगा। कलेक्ट्रेट में बने कंट्रोल रूम के पास वाले रूम में व्यय प्रेक्षक खर्चे के रजिस्टर का सत्यापन करेंगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.