सूरजपुर पुलिस ने मर्चेंट नेवी के पूर्व अफसर को किया गिरफ्तार, जानें वजह

ABHISHEK SHARMA

0 114

Greater Noida : (21/09/19) : सूरजपुर थाना पुलिस ने मर्चेंट नेवी के पूर्व अधिकारी को दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया है। मूलरूप से बीकानेर निवासी अभिमन्यु की पत्नी ने ही उस पर फर्जी पहचान पत्र बनाने, शादी का कार्ड तैयार कर धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया था।

आरोप था कि कोर्ट द्वारा निर्धारित भरण पोषण राशि देने से बचने के लिए उनसे धोखाधड़ी की गई थी। तहसीलदार की जांच में दस्तावेज फर्जी पाए जाने पर पुलिस ने अभिमन्यु और पांच परिजनों पर केस दर्ज किया था। करीब तीन माह पहले पुलिस ने आरोपी के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया था। जिसकी मदद से बृहस्पतिवार को एयरपोर्ट पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

शुक्रवार को उसे जेल भेज दिया गया। पीड़ित पक्ष के अधिवक्ता भूपेंद्र शर्मा ने बताया कि नोएडा के सेक्टर-137 निवासी ज्योत्सना मूलरूप से उत्तराखंड की रहने वाली हैं। उनका विवाह 23 अप्रैल 2014 को मर्चेंट नेवी में अफसर अभिमन्यु से हुआ था। आरोप है कि शादी के बाद से ही अतिरिक्त दहेज की मांग को लेकर उनका उत्पीड़न किया जाने लगा। रोजाना की प्रताड़ना से तंग आकर उन्होंने अदालत की शरण ली।



कोर्ट ने अगस्त 2018 में भरण-पोषण के लिए 85 हजार रुपये प्रतिमाह देने का आदेश दिया था, लेकिन उसे राशि नहीं दी गई। आरोप है कि भरण पोषण राशि देने से बचने के लिए कोर्ट में उसके नाम से ही एक याचिका डाली गई। जिसमें उसका फर्जी वोटर कार्ड, शपथ पत्र और शादी का कार्ड लगाया गया। वहीं, शपथ पत्र में किसी दूसरे व्यक्ति का नाम पति के रुप में लिखकर मांग की गई थी कि उसके शांतिपूर्ण जीवन में कोई दखल न दे। इस पर कोर्ट ने आदेश भी जारी किया था।

आरोप है कि इस आदेश को आधार बनाकर उसका पति भरण पोषण की राशि देने और उससे पीछा छुड़ाना चाहता था। जानकारी होने पर पीड़िता ने सभी दस्तावेज की जांच के लिए जिला प्रशासन को पत्र लिखा। जांच में वोटर कार्ड आदि फर्जी पाया गया। इसके बाद जून 2019 में धोखाधड़ी, साजिश आदि की धारा में अभिमन्यु सिंह, उसके पिता, मां समेत छह परिजन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई थी।

वहीं इस मामले में सूरजपुर थाना प्रभारी का कहना है कि इस केस में अभिमन्यु के माता-पिता को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। अभिमन्यु की गिरफ्तारी नहीं हो पा रही थी। इसके चलते लुक आउट नोटिस जारी कराया गया था। इसकी मदद से एयरपोर्ट के अधिकारियों ने आरोपी को पकड़ कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने एयरपोर्ट पहुंचकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.