- Advertisement -

जीएनआईओटी मे आईबीएम द्वारा कराइ गई कार्यशाला.

ग्रेटर नॉएडा इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (जीएनआईओटी ) मे हाइब्रिड मोबाइल एप्लीकेशन पर आईबीएम ने एक कार्यशाला का आयोजन किया जिसमे आईबीएम ने छात्रों को हाइब्रिड मोबाइल एप्लीकेशन बनाने की ट्रेनिंग दी।
जीएनआईओटी मे छात्रों के लिए आईबीएम ने एक कार्यशाला का आयोजन किया जिसमे आईबीएम के एग्जीक्यूटिव अभिषेक जी ने छात्रों को हाइब्रिड मोबाइल एप्लीकेशन बनाना सिखाया और साथ साथ कहा के हमें समय को देखते हुए नई-नई टेक्नोलॉजी का उपयोग करना चाहिए। इसके लिए अपने मस्तिष्क का प्रयोग बंद नहीं करना चाहिए। अभिषेक जी ने छात्रों को सम्बोधित करते हुए कहा के हमे अगर आगे बढ़ना है तो हाईटेक होना होगा और साथ साथ हमारे उपकरणों को भी हाईटेक करना होगा हाइब्रिड मोबाइल एप्लीकेशन स्मार्ट फ़ोन को और स्मार्ट कर देगा और फ़ोन को और ज्यादा यूजर फ्रेंडली बनाएगा अभिषेक ने छात्रों से अपने अनुभवों को साँझा करते हुए विद्यार्थी जीवन की कठिनाइयों को सुलझाने के भी मार्ग बताए।
जीएनआईओटी के निदेशक रोहित गर्ग ने कहा के कार्यशाला का उद्देश्य छात्रों को सिलेबस से हटकर नई टेक्नोलॉजी की जानकारी देना है और वर्तमान समय में टेक्नोलॉजी का उपयोग कर पाठ्यक्रम को सरल बनाया जा सकता है साथ साथ हमे छात्रों के न सिर्फ मानसिक बल्कि बौद्धिक विकास के स्तर को भी बढ़ाना है ऐसी कार्यशाला न सिर्फ छात्रों के मानसिक स्तर को बढाती है बल्कि उन्हें बौद्धिक रूप से भी सक्षम करती है।
कॉलेज के वाईस चेयरमैन श्री बी एल गुप्ता ने कहा के किताबी ज्ञान से कही ज्यादा जरूरी व्यवहारिक ज्ञान है किसी भी सफलता के लिए व्यवहारिक ज्ञान जरूरी है और साथ साथ अपने काम मे सम्पूर्णता भी जरूरी है ऐसी कार्यशाला से छात्रों को बहुत कुछ सीखने को मिलता है

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.