मंदिर तोड़ने के विवाद को लेकर कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा भीड़ का सपोर्ट करने पहुंचे इमरान हुसैन

Rohit Sharma (Photo-Video) Lokesh Goswami Tennews New Delhi :

0 164

पुरानी दिल्ली में मंदिर तोड़ने के विवाद को लेकर आम आदमी पार्टी के बागी विधायक कपिल मिश्रा ने केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है। कपिल मिश्रा का आरोप है कि जब मंदिर तोड़ा जा रहा था, उस भीड़ के सपोर्ट में केजरीवाल के मंत्री इमरान हुसैन भी आये थे।



कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर लिखा है कि जब मंदिर तोड़ा जा रहा था, उस भीड़ के सपोर्ट में केजरीवाल के मंत्री इमरान हुसैन भी आये थे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गुप्ता परिवार पर हुए हमले और मंदिर टूटने के मुद्दे पर केजरीवाल की चुप्पी आपराधिक हैं। झारखंड से लेकर गुरुग्राम तक हर छोटे बड़े मुद्दे पर बोलने वाला एकदम गूंगा बन गया। ये चुप्पी शर्मनाक हैं।

बता दें कि पुरानी दिल्ली के लालकुंआ स्थित हमदर्द दवाखाने के पास चाबुक वाली गली में एक हिंदू मंदिर को खंडित किया गया है।

पुलिस के मुताबिक क्षेत्रीय निवासी आस मोहम्मद रविवार की रात स्कूटी लेकर चाबुक वाली गली में पहुंचा। वो स्कूटी को संजीव की गोलगप्पे की दुकान के सामने पार्क करने लगा। संजीव ने इसका विरोध किया, लेकिन आस मोहम्मद ने उसकी सुनी नहीं।

इसी बात को लेकर दोनों के बीच कहासुनी होने लगी। थोड़ी देर में दोनों पक्षों की ओर से तीन-चार युवक वहां पहुंच गए और उन सबके बीच मारपीट भी हो गई। इसी दौरान किसी ने पीसीआर को कॉल कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस संजीव व आस मोहम्मद को मेडिकल कराने के लिए थाने ले गई।

घटना के दौरान किसी ने व्हाट्सएप व फेसबुक पर अफवाह फैला दी कि एक समुदाय के युवक को मॉब लिंचिंग का शिकार बनाया गया है। अफवाह के फैलते ही मुसलिम समुदाय की भारी भीड़ थाने पहुंच गई। थाने के बाहर नारेबाजी शुरू हो गई। रात करीब 11 बजे वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। कुछ नेताओं के साथ मिलकर भीड़ को समझाने का प्रयास किया गया। इन सबके बीच ही जब मंदिर में तोड़फोड़ की खबर फैली तो मामला बहुत बिगड़ गया और इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो गई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.