कल्पना कला केंद्र द्वारा सर्व धर्म सूफी प्रस्तुति, “हे प्रभो” का नोएडा में हुआ आयोजन

Abhishek Sharma

0 126
Noida (18/05/19) : नोएडा के कल्पना कला केंद्र संस्था ने सेक्टर 62 स्थित अयप्पा मंदिर के सबरी ऑडिटोरियम में प्रशिक्षण प्राप्त विद्यार्थियों द्वारा भरतनाट्यम शैली पर आधारित सर्व धर्म सूफी प्रस्तुति, “हे प्रभो” का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में सैकड़ो बच्चों ने नृत्य प्रस्तुति दी। वहीं कुछ महिलाओं  ने  कार्यक्रम में डांस प्रस्तुति देकर  लोगों का मन मोह लिया। इस दौरान विशिष्ट अतिथि के रूप में आदित्य घिल्डियाल, टेन न्यूज़ के संस्थापक गजानन माली,  नवरत्न फाउंडेशन के संस्थापक अशोक श्रीवास्तव, नोफा सदस्य राजीव सिंह, पवन कुमार समेत कई अन्य लोग उपस्थित रहे।



कार्यक्रम की शुरुआत कल्पना कला केंद्र में प्रशिक्षित बच्चों की डांस प्रस्तुति से की गई। इस दौरान बच्चों ने भरतनाट्यम, कत्थक, बॉलीवुड समेत कई प्रकार के नृत्यों  की प्रस्तुति से उपस्थित सभी लोगों का मन मोह लिया। प्रशिक्षित छात्राओं द्वारा वर्णम नृत्य ने खूब तालियां बटोरी।
कार्यक्रम  विशिष्ट अतिथि के तौर पर उपस्थित रहे सभी लोगों को तुलसी का पौधा व ट्रॉफी भेंट कर सम्मानित किया गया। इस दौरान कल्पना कला केंद्र की अध्यक्ष व कोरियोग्राफर डॉ कल्पना भूषण ने बताया कि आजकल के वातावरण में धर्म जाती को लेकर बहुत सी धारणाएं मनुष्य को विचलित कर  रही है। इसी के चलते एनजीओ कल्पना कला केंद्र नोएडा में पहली बार भरतनाट्य शैली में सर्व धर्म सूफी कार्यक्रम “हे प्रभो” आयोजित किया गया।
उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में स्कूल के छोटे-छोटे छात्राओं  ने भाग लिया और बहुत ही एवं लुभावने नृत्य प्रस्तुत किए। सारे गानों का चयन व कोरियोग्राफी खुद उन्होंने ही की है।  उनका मानना है कि बच्चों को प्यार और भारतीय संस्कृति की शिक्षा बचपन से देनी चाहिए। सबसे पहले हम भारतीय हैं और इस बात को कभी नहीं भूलना चाहिए।
फ़िलहाल ये कार्यक्रम सभी नागरिक को संदेश देने के लिए किया गया , जिससे हर प्राणी उस रास्ते पर चल सके के जिससे देश का उद्धार हो सके | बता दे की ये वो संस्था है जो हर छोटे से बड़े युवा के अंदर छुपी कला को बाहर निकाल कर लेकर आती है |

 

Video Highlights – Kcalpana Kala Kendra Presented “Hey Prabho” Sarva Dharma Samvhav Dance Theme

Photo Highlights – Kcalpana Kala Kendra Presented “Hey Prabho” Sarva Dharma Samvhav Dance Theme

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.