बिल्डर ने फ्लैट बेचा कहीं, पजेशन दी कहीं अलग, कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज

TEN NEWS NETWORK

0 204

Greater Noida : ग्रेटर नोएडा के सेक्टर ईटा-टू स्थित मिगसन बिलासा में डेढ़ लाख रूपये देकर फ्लैट बुक करने के बाद किसी अन्य टावर में फ्लैट देने का मामला सामने आया है। जब पीड़ित ने किसी अन्य टावर में फ्लैट नहीं लेने और रुपये वापस करने की मांग की तो उसके साथ अभद्रता की गई।

पीड़ित ने न्यायालय के आदेश पर चार आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। दादरी थाना क्षेत्र के गांव बोडाकी निवासी राहुल कुमार ने बताया कि उन्होंने वर्ष 2018 सेक्टर ईटा – टू में 660 वर्ग फुट का एक फ्लैट 1.51 लाख रुपये देकर मिन्सब ग्रुप के मिन्सन बिलासा में यमुना बिलटैक प्राइवेट लिमिटेड में फ्लैट संख्या 2/204 बुक किया था।

लेकिन गाजियाबाद के वैशाली क्षेत्र में स्थित महालक्ष्मी मेट्रो टावर – चार निवासी एसजेपी होटल्स एंड रिजोर्ट लिमिटेड के एमडी यश मिगलानी , सीएमडी सुनील मिगलानी , सेल्स हैड रिजवान और फाइनेंस हैड गरिमा ने उसकी यूनिट बदलकर 2 / 303 एलॉट कर दी।

उन्होंने बताया कि इस बात की जानकारी उन्होंने कंपनी के अधिकारियों को दी। अधिकारियों ने उसकी समस्या का जल्द समाधान करने का आश्वासन भी दिया। मई 2019 में उन्होंने कंपनी के अधिकारियों से मुलाकात की तो उन्होंने कहा कि वह फ्लैट की एनओसी ले लें। इसके बाद वह उनका फ्लेट उन्हें दे देंगे।

अधिकारियों की बात पर विश्वास करने के बाद उन्होंने एनओसी के लिए आवश्यक कार्रवाई पूरी कर दी। आरोप है कि जब वह अपने फ्लैट के बारे में जानकारी करने के लिए गए तो वहां उनके साथ अभद्रता की गई और सुरक्षा गार्डों से मारपीट कराई गई। अधिकारियों ने उनका फ्लैट और पैसा देने से भी इंकार कर दिया।

इस बात की सूचना उन्होंने सूरजपुर पुलिस से की , लेकिन कोई मदद नहीं मिली। अब न्यायालय के आदेश पर सूरजपुर पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ धोखाधडी और अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सूरजपुर थाना प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.