सत्येंद्र जैन का बयान , दिल्ली में कम्युनिटी स्प्रेड मानने से मोदी सरकार का इनकार, डीडीएमए मीटिंग में किया साफ

Rohit Sharma

0 85

नई दिल्ली :– दिल्ली में कम्युनिटी स्प्रेड को मानने से मोदी सरकार ने इनकार कर दिया है. दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (डीडीएमए) की बैठक में केंद्र सरकार के अफसरों ने डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया से कहा कि अभी दिल्ली में कम्युनिटी स्प्रेड नहीं है. वहीं, स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा, केंद्र सरकार ने कहा है कि कम्युनिटी स्प्रेड नहीं है ।

कम्युनिटी स्प्रेड पर भारत सरकार के अधिकारियों का कहना है कि अभी दिल्ली में ऐसी स्थिति नहीं है. ऐसे में इस पर चर्चा की जरूरत नहीं है ।

हमने दिल्ली के अस्पतालों को सभी मरीजों को खोलने के फैसले पर सवाल उठाया और वापस लेने की मांग की, लेकिन एलजी साहब ने मना कर दिया।

वहीं, स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा, ‘मैंने भारत सरकार के अधिकारियों के सामने कहा कि कई केस के स्त्रोत का पता नहीं चल रहा है।

कई लोगों का टेस्ट किया गया और वह पॉजिटिव निकले, लेकिन सोर्स नहीं पता चला. कल एम्स के डॉयरेक्टर ने खुद कहा था कि दिल्ली के कंटेनमेंट जोन में कम्युनिटी स्प्रेड है, लेकिन यह टेक्निकल मामला है, फैसला केंद्र ही करेगी।

स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा, ‘हम तो कह सकते हैं कि दिल्ली में स्प्रेड है, दिल्ली में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है. कम्युनिटी स्प्रेड शब्द के इस्तेमाल का अधिकार केंद्र के पास है तो वह ही इस मामले में फैसला ले सकती है।

स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा, ‘दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालों में 50 फीसदी लोग बाहर से इलाज कराने आते हैं और बड़े सरकारी में यह आंकड़ा 70 फीसदी के करीब है. 31 जुलाई तक सिर्फ दिल्लीवालों के लिए 80 हजार बेड चाहिए. एलजी साहब से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कोई प्लान नहीं किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.