नोएडा प्राधिकरण के अध्यक्ष आलोक टंडन ने किया सेक्टर 26 के बैडमिंटन कोर्ट का उद्घाटन

Abhishek Sharma (Photo-Video) Lokesh Goswami Tennews New Delhi :

0 262

नोएडा के सेक्टर-26 स्थित सामुदायिक केंद्र में आज बैडमिंटन कोर्ट का उद्घाटन किया गया। इस मौके पर नोएडा प्राधिकरण के चेयरमैन एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी आलोक टंडन व जीएम राजीव त्यागी मौजूद रहे। आपको बता दें कि नोएडा में यह पहला ऐसा बैडमिंटन कोर्ट है जिसका निर्माण सेक्टर के निवासियों एवं रेसिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन के द्वारा अपनी जेब से कराया गया है। उद्घाटन के दौरान आलोक टंडन ने सेक्टर-26 आरडब्ल्यूए को विकास कार्यों के लिए 50 लाख रुपए देने की घोषणा की।



सीईओ आलोक टंडन एवं आरडब्ल्यूए अध्यक्ष गोविन्द शर्मा ने फीता काटकर बैडमिंटन कोर्ट का उद्घाटन किया। इस दौरान सीईओ आलोक टंडन ने टेन न्यूज़ से बातचीत करते हुए बताया कि सेक्टर 26 आरडब्ल्यूए एवं निवासियों ने बड़ा सराहनीय कार्य किया है। आरडब्ल्यूए ने अपने संसाधनों से 30 लाख रूपये खर्च कर बड़े ही आलिशान बैडमिंटन कोर्ट का निर्माण कराया है। यहां के निवासियों ने “गिविंग बैक” का शानदार उदाहरण पेश किया है।

उन्होंने कहा कि एक हफ्ते पहले यहां के अध्यक्ष गोविन्द शर्मा मेरे पास आए थे, उन्होंने बताया था कि सभी लोगों ने अपने संसाधनों से 30 लाख रूपये खर्च कर बैडमिंटन कोर्ट का निर्माण कराया है। उन्होंने कहा कि आज के समय में लोग गवर्नमेंट अथॉरिटीज पर निर्भर रहते हैं कि जो भी कार्य होगा वह प्राधिकरण कराएगा। हालांकि, यहां के लोगो ने इस मिथक को तोड़कर रख दिया है। यह बेहद प्रसन्नता का विषय है।

उनका कहना है कि हमारे देश में खेलों के लिए सुविधाओं का अभाव है। अभी भी नोएडा में अंतर्राष्ट्रीय सुविधाओं का अभाव है। नोएडा प्राधिकरण ने आधुनिक सुविधाओं से लैस नोएडा स्टेडियम का निर्माण कराया है, जहां पर हजारों बच्चे प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं।

वहीं उन्होंने जल संरक्षण पर बेहद जोर दिया और कहा कि सभी लोगों से अपील है कि बारिश का सीजन शुरू होने वाला है, ऐसे में लोगों को पानी संरक्षित करना चाहिए, क्योंकि “जल है तो कल है”, नोएडा प्राधिकरण भी बारिश के पानी का संग्रहण करने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रहा है।

प्राधिकरण ने इसके लिए 20 टीमें गठित की हैं, जो कि सभी क्षेत्रों में जाकर पानी के संरक्षण के लिए काम कर रही हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों में तालाबों की सफाई कराकर उन्हें बारिश के पानी का संरक्षण करने के लिए तैयार कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली, गुरुग्राम समेत एनसीआर के कई क्षेत्रों में लोग पानी की किल्लत झेल रहे हैं। अगर जल संरक्षण नहीं किया गया तो आने वाले समय में नोएडा के लोगों को भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

वहीं उन्होंने ठोस अपशिष्ट प्रबंधन पर भी ध्यान केंद्रित करते हुए कहा कि लोगों को अपने आसपास साफ़-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। गीला कचरा अलग, सूखा कचरा अलग रखा जाना चाहिए। नोएडा प्राधिकरण इसके लिए भी लगातार अभियान चला रहा है।

लोग इसके लिए अपना योगदान दें और ज्यादा से ज्यादा डस्टबिन लगाए।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.