ऑपरेशन ट्रैप को अंजाम देने वाले पुलिसकर्मी व अधिकारियों के बयान दर्ज करने की प्रक्रिया हुई शुरू

Abhishek Sharma

80
Greater Noida (02/02/19) : ऑपरेशन ट्रैप में आठ लाख रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार हुए एसएचओ कोतवाली सेक्टर 20 मनोज कुमार पंत व तीन पत्रकारों के खिलाफ दर्ज एफआइआर की जांच शुरू हो गई है। जांच अधिकारी, क्षेत्राधिकारी द्वितीय, राजीव कुमार सिंह ने कहा कि ऑपरेशन ट्रैप को अंजाम देने वाले पुलिस अधिकारी व कर्मियों के अलावा स्वतंत्र गवाह व कॉल सेंटर संचालक को बयान दर्ज कराने के लिए नोटिस जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।



उन्होंने बताया कि इस मामले में बयान दर्ज कराने के लिए 20 से अधिक लोगों को नोटिस जारी किये जा रहे हैं। साक्ष्यों को मजबूत करने के लिए फोरेंसिक जांच भी जल्द कराने के प्रयास होंगे।
वहीं, एसएसपी वैभव कृष्ण ने फ़ोन पर बताया कि निलंबित इंस्पेक्टर मनोज पंत के खिलाफ दर्ज एफआइआर की जांच के अलावा विभागीय जांच भी होगी। इसके लिए आवश्यक कार्रवाई होगी। अभी कोतवाली सेक्टर 20 में नये कोतवाल की नियुक्ति नहीं हुई है।
मंगलवार रात हुई एसएचओ सेक्टर 20 मनोज पंत की गिरफ्तारी व निलंबन के तीन दिन बाद भी वहां नये कोतवाल की अबतक नियुक्ति नहीं हो सकी है। नये कोतवाल की नियुक्ति से पहले इंस्पेक्टरों को इंटरव्यू प्रक्रिया से गुजरना है। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि “शुक्रवार को किसानों के डीएनडी पर धरने की वजह से व्यस्तता रही। नये कोतवाल की नियुक्ति के लिए जल्द ही प्रक्रिया पूरी कर नियुक्ति कर दी जाएगी”।
Loading...

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.