- Advertisement -

अयोध्या मास्टर प्लान फेज-एक को जल्द दिया जाये अन्तिम रूप, मुख्य सचिव ने दिए निर्देश

0 84

लखनऊः अयोध्या के विकास कार्योें की समीक्षा हेतु मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में गठित अंर्तविभागीय समन्वय के लिए उच्च शक्ति प्राप्त माॅनीटरिंग कमेटी की बैठक आयोजित की गई।

अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि अयोध्या मास्टर प्लान फेज वन को जल्द से जल्द अंतिम रूप दिया जाये। उन्होंने कहा कि मण्डलायुक्त एवं जिलाधिकारी अयोध्या कार्यदायी संस्थाओं के साथ नियमित बैठकें कर परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा करें तथा सभी सम्बन्धित विभाग पाक्षिक सूचनाएं उपलब्ध करायें एवं सभी परियोजनाओं की कार्यवार टाइम लाइन निर्धारित करें। उन्होंने निर्धारित समय सारिणी के अनुसार सभी परियोजनाएं पूर्ण करने के सख्त निर्देश दिये।

इससे पूर्व अयोध्या के विकास कार्यों का प्रस्तुतीकरण करते हुए प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार ने बताया कि अयोध्या के विकास के लिए 20107 करोड़ रुपये की 124 परियोजनाओं पर काम चल रहा है, जिनमें से 79 परियोजनाएं 15 दिसम्बर, 2021 तक पूर्ण हो जायेगी। आवास विकास परिषद की 03 अयोध्या विकास प्राधिकरण की 12, अयोध्या नगर निगम की 16, लोक निर्माण विभाग की 20, पर्यटन विभाग की 14, संस्कृति विभाग की 04, राष्ट्रीय राजमार्ग विकास प्राधिकरण की 04, परिवहन निगम की 03, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण की 06, डाॅयट 01, शिक्षा विभाग की 04, कारागार विभाग 01, सेतु निगम 03, पुलिस की 03, उच्च शिक्षा की 02, पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार की 04, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास की 03, माध्यमिक शिक्षा विभाग की 04, प्राविधिक शिक्षा विभाग 01, होम्योपैथिक विभाग 01, विद्युत विभाग 01, मण्डी परिषद 04, खेलकूद 01, आयुष विभाग 01, युवा कल्याण 01, सौर ऊर्जा 01, एयरपोर्ट अथाॅरिटी आॅफ इण्डिया की 01 तथा रेलवे की 01 परियोजना पर काम चल रहा है।

इसके अतिरिक्त धर्मार्थ कार्य विभाग की 02, ग्राम्य विकास विभाग तथा पशुपालन विभाग की 1-1 परियोजनाओं पर काम चल रहा है। 15 दिसम्बर, 2021 तक पूरी हो जाने वाली प्रमुख परियोजनाओं में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सुनवा, मऊशिवला से गद्दोपुर तक पुरानी रोड के चार लेन बनाने, साकेतपुरी काॅलोनी में सड़क का अवशेष कार्य, अयोध्या के 15 वार्डों के गलियों में सड़क एवं नाली का निर्माण, प्रधानमंत्री आवास योजना, 08 कुण्डों का सौन्दर्यीकरण एवं आर्ट वर्क तथा अयोध्या, मास्टर प्लान फेज वन शामिल है। इसके अतिरिक्त 32 केएलडी क्षमता का एफएसटीपी, एनिमल बर्थ कन्ट्रोल परियोजना, गौशाला निर्माण, साॅलिड वेस्ट ट्रीटमेन्ट प्लान्ट फेज वन तथा राजद्वार पार्क का विकास भी 15 दिसम्बर, 2021 तक पूरा हो जायेगा। डोर-टू-डोर वेस्ट कलेक्शन एण्ड ट्रांसपोर्टेशन, मैकेनिकल स्वीपिंग आफ रोड तथा शौचालयों सेवायें की मशीनीकृत सफाई, अयोध्या पुर्नगठन सीवरेज, रूदौली पेयजल योजना, अयोध्या सीवरेज योजना फेज-टू, अयोध्या नगर की सीवर संयोजन योजना फेज-टू, अयोध्या नगर में को0 ट्रीटमेन्ट प्लान्ट का निर्माण, रानोपाली रेलवे क्रासिंग से विद्याकुण्ड मार्ग चैड़ीकरण का सुदृढ़ीकरण, एनएच-27 से रामघाट दिगम्बर अखाड़ा होते हुए अयोध्या मुख्य मार्ग तक सुदृढ़ीकरण, पंचकोसी परिक्रमा मार्ग पर उटया चैराहे से गोलाघाट तक सुदृढ़ीकरण, अशर्फी भवन से मीडिया सेन्टर सम्पर्क मार्ग, अशर्फी भवन से गोलाघाट तुलसी उद्यान मार्ग सुदृढ़ीकरण, टेढ़ी बाजार अशर्फी भवन से राजघाट तक चैड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण, गोलाघाट चैराहे से लक्ष्मण किला घाट तक चैड़ीकरण सुदृढ़ीकरण के कार्य भी 15 दिसम्बर, 2021 तक पूरे हो जायेंगे।

पंचकोसी परिक्रमा मार्ग के किमी 11 से झुनकी घाट तक नव निर्माण, अशर्फी गोलाघाट से झुनकी घाट तक चैड़ीकरण, नयाघाट चैराहे का चैड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण आदि के कार्य भी 15 दिसम्बर, 2021 तक पूर्ण हो जायेंगे। इसी प्रकार पर्यटन विभाग की 12, संस्कृति विभाग की 02, एनएचएआई की 01, परिवहन निगम की 02, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य की 05, डाॅयट की 01, शिक्षा विभाग की 01, पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार 01, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विभाग की 03, माध्यमिक शिक्षा विभाग की 04, प्राविधिक शिक्षा विभाग की 01, होम्योपैथी व विद्युत विभाग की 1-1, मण्डी परिषद, खेलकूद, आयुष तथा युवा कल्याण विभाग की भी 1-1 परियोजनायें 15 दिसम्बर, 2021 तक पूरी कर ली जायेंगी।
बैठक में अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव गृह एवं धर्मार्थ कार्य अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव राजस्व, ग्राम्य विकास व पंचायती राज मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव औद्योगिक विकास अरविन्द कुमार, अपर मुख्य सचिव कार्यक्रम क्रियान्वयन सुरेश चन्द्रा सहित सभी सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारीगण तथा वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से मण्डलायुक्त एवं जिलाधिकारी अयोध्या व अन्य सम्बन्धित विभागीय अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.