एसडीएम के आश्वासन पर शाहबेरी के बायर्स ने खत्म किया आमरण अनशन

ABHISHEK SHARMA

0 213

Greater Noida (16/10/19) : जिला प्रशासन के आश्वासन के बाद बीती रात शाहबेरी संघर्ष समिति ने आमरण अनशन समाप्त कर दिया। प्रशासन की तरफ से दादरी तहसीलदार राकेश सिंह धरना स्थल पर पहुंचे। तहसीलदार ने कहा है कि शाहबेरी का मामला अभी शासन स्तर पर लंबित है। वहां से फैसला आने के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी।



शाहबेरी के खरीदारों ने 11 अक्टूबर से आमरण अनशन शुरू किया था। उनकी मांग थी कि शाहबेरी को नियमित कर सुविधाएं विकसित की जाएं। साथ ही, 14 अगस्त को धरना देने वाले खरीदारों पर दर्ज मुकदमों को वापस लिया जाए।

मंगलवार को आमरण अनशन का पांचवां दिन था। शाम को करीब आठ बजे दादरी तहसील के तहसीलदार राकेश सिंह धरना स्थल पर पहुंचे। वहां उन्होंने खरीदारों से कहा कि त्योहार के मौके पर शाहबेरी में तोड़फोड़ नहीं की जाएगी। जो खाली बिल्डिंग है, उन्हीं को सील किया जाएगा। अन्य किसी पर कार्रवाई नहीं होगी।

यह कार्रवाई खरीदारों को फंसने से बचाने के लिए की जाएगी। तोड़ने या नहीं तोड़ने का मामला प्रशासन के हाथ में नहीं है। यह मामला शासन स्तर पर लंबित है। वहां से फैसला होने के बाद ही कार्रवाई होगी। सुविधाओं की मांग को प्राधिकरण के समक्ष रखा जाएगा। वहीं, खरीदारों पर दर्ज मुकदमों को वापस लेने पर तहसीलदार ने कहा कि खरीदारों की टीम इस संबंध में जिलाधिकारी से मिले। उसके बाद तहसीलदार ने जूस पिलाकर पांच खरीदारों का आमरण अनशन तुड़वाया। इस मौके पर बड़ी संख्या में शाहबेरी के लोग मौजूद रहे।

इस मामले एसडीएम दादरी राजीव राय का कहना है कि खरीदारों को समझाकर आमरण अनशन समाप्त कराया गया। समझाया गया कि प्रशासन की कार्रवाई बिल्डरों पर है। मांगों को शासन व प्राधिकरण स्तर पर रखा जाएगा। दर्ज मुकदमों को वापस लेने के लिए प्राधिकरण से वार्ता की जाएगी। आईआईटी दिल्ली की जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। जल्द ही शाहबेरी में सीलिंग शुरू होगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.