कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा ने 1984 के सिख दंगों पर दिए गए बयान को लेकर सिख समुदाय के लोगों ने दी प्रतिक्रिया

ROHIT SHARMA/ JITENDER PAL- TEN NEWS

48

( 11/05/2019) कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा के 1984 के सिख दंगों को लेकर दिए गए बयान को सुन सिख समुदाय के लोगों के जहन में आग सी फैल गई | वही इस मामले में देश के अंदर कांग्रेस पार्टी के खिलाफ प्रदर्शन भी हुआ |



खासबात यह है की इस मामले में शुक्रवार को सिख समुदाय के लोग कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के घर के बार प्रदर्शन भी किया । वही दूसरी तरफ इस मामले में राहुल गाँधी ने इस बयान पर अपनी नराजगी जाहिर भी की |

आपको बता दे की सैम पित्रोदा को राहुल गांधी का गुरू कहा जाता है और वह इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं। गुरुवार को सैम पित्रोदा ने 1984 के सिख दंगों को लेकर ऐसा बयान दिया था जिसके बाद उनकी आलोचना हो रही है।

उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी हमेशा झूठ बोलते रहते हैं और अभी भी झूठ बोलकर जनता से वोट मांग रहे हैं। वह चुनावी रैली में मुद्दों की बात नहीं करते हैं। आगे उन्होंने कहा, ’84 में जो हुआ वो हुआ। आपने पांच सालों में क्या किया।

हालांकि उन्हें यह नहीं पता था की इस ब्यान से कांग्रेस को कितनी कीमत चुकानी पड़ सकती है , क्योकि दिल्ली में कल लोकसभा के चुनाव होने वाले है , वही इस दिल्ली में सबसे ज्यादा सिख समुदाय के लोग रहते है |

वही इस मामले में टेन न्यूज़ की टीम ने सिख समुदाय के लोगों से प्रतिक्रिया ली , उन्होंने कहा की सैम पित्रोदा को राहुल गांधी का गुरू कहा जाता है | उन्हें यह पता होना चाहिए की आप क्या बोल रहे है , आपके ब्यान से सभी सिख समुदाय के लोगों पर कितना असर पड़ा है | उनका कहना है की साथ ही इस ब्यान से साफ जाहिर होता है की कांग्रेस पार्टी कभी भी सिख समुदाय के लोगों के साथ नहीं है |
वही दूसरी तरफ कुछ सिख लोगों का कहना है की कांग्रेस पार्टी को वोट देने का मन हट चूका है , क्योकि इस पार्टी के लोग सिर्फ अपनी कुर्सी पर नज़र है | ये लोग सिर्फ सिख समुदाय को हानि पहुंचाते रहते है |
साथ ही इस मामले में ऐसे लोग थे , जिन्होंने यह कहा की अब न्यूज़ चैनल देखने का मन नहीं करता , क्योकि अब ऐसी राजनीती हो गई है जैसे चूहे – बिल्ली का खेल | कोई भी पार्टी मुद्दे पर बात नहीं करती है , सिर्फ जख्म पर नमक लगाती है |

Loading...

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.