नोएडा : सीएम योगी ने पुलिस कमिश्नर कार्यालय का किया उद्घाटन, कही ये बड़ी बातें

ROHIT SHARMA / ABHISHEK SHARMA

0 364

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज शाम नोएडा के सेक्टर 108 स्थित ट्रैफिक पार्क में पुलिस कमिश्नर कार्यालय का शुभारंभ किया। इस दौरान उनके साथ गौतम बुध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा,  राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर, कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा,  स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, नोएडा विधायक पंकज सिंह, दादरी विधायक तेजपाल नागर, जेवर विधायक धीरेंद्र सिंह, अपर गृह सचिव अवनीश अवस्थी, पूर्व डीजीपी उत्तर प्रदेश प्रकाश सिंह, पूर्व दिल्ली पुलिस आयुक्त अजय शर्मा, ईपीसीएच के महानिदेशक राकेश कुमार, पूर्व मुख्य गृह सचिव दीपक सिंघल उपस्थित रहे।

उत्तर प्रदेश बदल रहा है। अब हकीकत जमीन पर दिखाई देने लगी है। हर क्षेत्र में परिवर्तन देखने को मिल रहा है। जहां उत्तर प्रदेश में उद्यमी निवेश करने से कतराते थे, अब उत्तर प्रदेश में लाखों करोड़ों का निवेश हो रहा है। यह बात उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार शाम को सेक्टर- 108 स्थित पुलिस कमिश्नर ऑफिस के उद्घाटन अवसर पर कही।

उन्होंने कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं हो सकता। इसके लिए युवा पीढ़ी को तैयार करना होगा। उन्होंने कहा कि सकारात्मक माहौल की वजह से जेवर के किसानों ने एयरपोर्ट के लिए स्वेच्छा से जमीन दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि जेवर क्षेत्र में एयरपोर्ट बनने से क्षेत्र का आमूलचूल विकास होगा तथा यह क्षेत्र दुनिया का सबसे सुंदर व विकसित शहर बनेगा। उन्होंने कहा कि एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट ग्रेटर नोएडा में बन रहा है, जिसकी वजह से यहां पर विकास की बयार बहेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस का जनता से सीधे संवाद होना चाहिए। सीनियर सिटीजन, महिलाओं की समस्याओं का पुलिस प्रमुखता से समाधान करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा में बड़ी संख्या में महिलाएं, बालिकाएं विभिन्न सेक्टरों में काम करती है। उन्हें अलग-अलग शिफ्ट में काम करना पड़ता है। उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखकर यहां की पुलिसिंग बेहतर करनी होगी।

 

साइबर क्राइम यहां की एक बढ़ती हुई समस्या है। इसके लिए अलग से साइबर थाने खोले जा रहे हैं, तथा साइबर क्राइम की विवेचना करने वाले पुलिसकर्मियों को ट्रेनिंग दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पुलिस बल की भारी कमी है, जिसको खत्म करने के लिए हमने विभिन्न पहलुओं पर काम किया है। 1,37,000 नए पुलिस कर्मियों की भर्ती हुई है। पुलिस की ट्रेनिंग क्षमता को दोगुना किया गया है।

उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मियों की सुविधाओं को बढ़ाया जा रहा है। पुलिसकर्मियों के आवासीय योजनाओं के लिए प्रयाप्त धन राशि दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस फॉरेंसिक विश्वविद्यालय का निर्माण जल्द ही उत्तर प्रदेश में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी क्षेत्रों में आबादी बढ़ी है। अपराध की प्रबृति भी बदली है। इसको देखते हुए हमें रणनीति तय करनी होगी।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद कानून व्यवस्था की स्थिति सुदृढ़ हुई है, जिसकी वजह से उत्तर प्रदेश में हुए इन्वेस्टर मीट में चार लाख करोड़ से ज्यादा का निवेश हुआ है। उन्होंने कहा कि पहले उत्तर प्रदेश में उद्योगपति पैसा नहीं लगाना चाहते थे, लेकिन अब वह उत्तर प्रदेश में निवेश करना चाहते हैं। यह उत्तर प्रदेश की सुदृढ़ कानून व्यवस्था का ही परिणाम है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में स्मार्ट पुलिसिंग व स्मार्ट सिटी को ध्यान में रखकर व्यवस्थाएं लागू की जा रही है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनप्रतिनिधि, जिला प्रशासन के अधिकारी, तथा पुलिस के अधिकारी अगर एक साथ मिलकर प्रयास करें तो कानून व्यवस्था और भी सुदृढ़ हो सकती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 23 करोड़ की जनता की सुरक्षा, शांति व समृद्धि के लिए जो भी कदम उठाने पड़ेंगे वह उठाएंगे।

इस अवसर पर बोलते हुए गौतम बुध नगर के पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने कहा कि कमिश्नर प्रणाली लगने के बाद गौतम बुध नगर की कानून व्यवस्था सुदृढ़ हुई है। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए महिला चौपाल का आयोजन किया जा रहा है। साइबर क्राइम रोकने के लिए साइबर अपराधों की विवेचना करने वाले पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है।

 

उन्होंने कहा कि ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए 400 ट्रैफिक पुलिसकर्मी अतिरिक्त तैनात किए गए हैं। कमिश्नर ने कहा कि मित्र पुलिसिंग के जरिए लोगों से सीधे संवाद किया जा रहा है।

 

वही इस कार्यक्रम में लोग तब अचंभित हुए जब बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर, कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना एवं डीएम बीएन सिंह के लिए मंच पर बैठने की व्यवस्था नहीं की गई। हालांकि जब यह लोग मंच पर पहुंचे तो आनन-फानन में उनके लिए कुर्सी की व्यवस्था की गई। बता दें कि सुरेंद्र नागर समाजवादी पार्टी छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.