लोगों को हनीट्रैप में फंसाने वाली महिला समेत 4 लोगों को नोएडा पुलिस ने किया गिरफ्तार

Abhishek Sharma

Greater Noida (17/04/19) : थाना दादरी पुलिस और स्टार -2 टीम ने एक महिला समेत चार लोगों के गिरोह को हनीट्रैप में फंसाने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है। इन लोगों को आज सुबह दादरी क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए अभियुक्त लोगों को झूठे मुक़दमे में फंसाने की धमकी देकर पैसे ऐठने का काम करते थे। इन लोगों से पुलिस ने 2,76,550/- रूपये नकदी , पुलिस की फर्जी वर्दी , एक फर्जी आईडी और एक सैंट्रो कार बरामद की गई है।
गिरफ्तार की गई महिला सीमा सिरोही शादीशुदा जिसके 3 बच्चे है। सीमा नौकरी के बहाने से अपने साथी अरुण के साथ लोगों से मिलती थी , जिसके बाद उनके फ़ोन से संपर्क बनाकर बात करना शुरू करती थी। अभियुक्त महिला लोगों से व्हाट्सप्प पर चैट कर लोगों को अपने अलग-अलग तरह से तस्वीर भेजकर अपने फ्लैट पर बुलाती थी। उसके बाद अरुण छुपकर संदिग्ध अवस्था में उनकी वीडियोग्राफी कर लेता था। फिर ये लोगों को ब्लैकमेल करना शुरू कर देते थे और पुलिस की धमकी देकर पुलिस को फोन करते थे। जिसके बाद 49वीं वाहिनी पीएसी डी कंपनी में कार्यरत विजय सिंह चीमा फर्जी पुलिस वाला बनकर लोगों को डराता धमकाता था और कासना थाना में ले जाने के लिए कहते थे।

 



एसएसपी वैभव कृष्णा ने जानकारी देते हुए बताया कि इनका एक और साथी पुलिस व पीड़ित लोगों के बीच सुलह कराकर पैसों का लेनदेन कराता था। एसएसपी ने बताया कि पुष्पेंद्र ही सीमा को नए लोगों फंसाने के लिए उनके नंबर मुहैया कराता था। पीड़ितों द्वारा थाना दादरी में इन लोगों के गिरोह के खिलाफ शिकायत दी गई थी। जिसपर कार्यवाही करते हुए पुलिस ने इन लोगों पर इन लोगों के गिरोह को 2 लाख 76 हजार की नकदी के साथ गिरफ्तार किया है।

एसएसपी ने बताया कि इन लोगों का यह गिरोह पिछले 7 महीनों से इस काम में संलिप्त है। इस दौरान इस गिरोह ने महिला को आगे कर कई लोगों को निशाना बनाया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में ग्रेटर नोएडा सेक्टर-36 के आरडब्ल्यूए के अधिकारी को भी गिरफ्तार किया गया है।

 लोगों को हनीट्रैप में फंसाने वाली महिला  सीमा सिरोही , अरुण कुमार पुत्र हरगोविंद बुलंदशहर के रहने वाले हैं। वहीं अन्य आरोपी विजय सिंह चीमा अमरोहा जिला व पुष्पेंद्र पुत्र जगत नारायण निवासी सेक्टर-36 है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.