राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर के विरोध में दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना, असाम नागरिकों ने बताया खामियों से भरपूर

ROHIT SHARMA / LOKESH GOSWAMI

0 442

असम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) का ड्राफ्ट जारी होने के बाद देश में सियासी घमासान मच गया है । वही इस मामले को लेकर असम की संस्था जिसका नाम असोम संख्यालघु संग्राम परिषद है , उन्होंने आज दिल्ली के जंतर मंतर में प्रदर्शन किया ।

वही दूसरी तरफ कांग्रेस और टीएमसी समेत अन्य विपक्षी पार्टियां लगातार इस ड्राफ्ट का विरोध कर रही हैं ।

साथ ही इस संस्था के अध्य्क्ष अब्दुल अजीज का कहना है कि जब तक रजिस्ट्रेशन में बरती गई अनियमितताओं को दूर नहीं किया जाता है , तब तक के लिए उसे खारिज कर दिया जाए ।

वही उनका कहना है कि अनियमितताओं के कारण ही 40 लाख लोगों को शामिल ड्राफ्ट में शामिल नहीं किया जा सका , जोकि ये बिल्कुल गलत है । इससे असम में रह रहे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है । जिसको देखते हुए अपनी आवाज को बुलंद करने के लिए असम के सैकड़ो लोगों ने केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया है ।

वही दूसरी तरफ उनका कहना है कि असम में एनआरसी लागू होने से लोकतंत्र को नष्ट करने की कवायद है और साफतौर से यह पक्षपात और भेदभावपूर्ण एजेंडा है ।

वही उन्होंने बताया कि अपनी मांगों को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी , गृहमंत्री राजनाथ सिंह को एक पत्र भी दिया गया है , जिसमे लिखा है कि असम में एनआरसी को खारिज किया जाए । अगर उनकी मांगे नही मानी गयी तो ये धरना एक विशाल रूप लेगा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.