स्पीड के साथ वाहन की तस्वीर भी कैद करेगा ये अत्याधुनिक उपकरण, अब सड़क पर नियम तोड़ने वालों की खैर नहीं

77

नोएडा  :– दुबई और यूरोपीय देशों की तर्ज पर अब नोएडा में भी कोई सड़क पर चलने वाला वाहन नियम नहीं तोड़ पाएगा और अगर ऐसा हुआ तो सड़क किनारे लगा ये रेडार आपके नियमो का ख्याल रखेगा , साथ ही बिना किसी के पता चले आपके गाड़ी की तस्वीर कैद करने के साथ ओवरस्पीड माप लेगा।

वही दूसरी तरफ आप हेलमेट नहीं पहने हो ये भी सूचना ट्रैफिक पुलिस को दी जाएगी। जिसके मुताबिक आपका चालान काट दिया जाएगा। जिससे किसी भी तरह से अब आप नियमो का उलंघन नहीं कर सकेंगे ।



सड़क के किनारे लगा ये खम्बा नहीं बल्कि एक ऑटोमैटिक ट्रैफिक डिडेक्टर( रडारयुक्त कैमरे) है। इसका काम सड़क पर चल रहे यात्रियों और उनकी गाड़ियों पर नजर रखना है कि वो कितनी स्पीड में चल रही है और क्या नियम फॉलो कर रही है।

सड़क पर चलती कोई भी गाड़ी ट्रैफिक नियम नहीं अपनाती है तो ये तुरंत अपने कैमरे में कैद कर लेगा , साथ ही ट्रैफिक पुलिस को ऑनलाइन आंकड़ा भी देगा की कितने वाहनों ने ट्रैफिक नियमो का पालन नहीं किया है।

आपको बता दे की ऑटोमैटिक ट्रैफिक डिडेक्टर अभीतक इसे एक परिक्षण के तौर पर लगाया गया था और इसका परिक्षण होता दिख रहा है इसलिए ट्रैफिक पुलिस इसे यमुना एक्सप्रेस-वे और नॉएडा ग्रेटर नॉएडा एक्सप्रेस-वे, एलिवेटेड रोड के साथ मुख्य जगह पर लगाने की तैयारी कर रही है।

वही इस मामले में ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी अनिल कुमार झा का कहना है कि यह तकनीक अभी दुबई और कुछ यूरोपीय देशों में ही काम कर रही है। भारत में पहली बार नोएडा से इसकी शुरुआत हुई है। फ्रांस की एक कंपनी ने यह उपकरण ट्रायल के लिए लगाया है। रेडार डिटेक्टर महामाया फ्लाईओवर से आगे चलकर दलित प्रेरणा स्थल के पास लगाया गया है। इसने अबतक करीब ढाई हजार वाहनों द्वारा नियम तोड़ने का आंकड़ा दिया है।

साथ ही उनका कहना है की ऑटोमैटिक ट्रैफिक डिडेक्टर का काफी अच्छा रिस्पांस मिला है , जिसके बाद अब यह निर्णय लिया गया है की यमुना एक्सप्रेस-वे और नॉएडा ग्रेटर नॉएडा एक्सप्रेस-वे, एलिवेटेड रोड के साथ मुख्य जगह पर लगाए जाए , जिससे यातायात नियमों को तोड़ने वालों पर अंकुश लग सके |

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.