बाइक बोट घोटाले में कोर्ट के आदेश पर कांग्रेस विधायक समेत 58 लोगों पर मुकदमा दर्ज

ABHISHEK SHARMA

0 133

बाइक- टैक्सी चलवाने के नाम पर गौतम बुद्ध नगर में हुए अरबों रुपये के फर्जीवाड़े में अदालत के आदेश पर शुक्रवार देर रात को दादरी थाने में 58 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई। अदालत ने सैकड़ों पीड़ितों की शिकायत पर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया था।

इस मामले में संजय भाटी, दीप्ति बहल, विजयपाल कसाना, राजेश भारद्वाज,सुनील प्रजापति ,भूपेंद्र सिंह, मेनपाल, किरण पाल, गीता चौधरी, दीप्ति ,पवन ,राजस्थान के, नंदबई से विधायक जोगिंदर सिंह अवाना, शायर नदीम फारुख सहित 58 लोगों के नाम हैं। हालांकि, आरोपी विधायक जोगिंदर अवाना ने कहा है कि उनका इस फर्जीवाड़े से कोई लेना देना नहीं है।

अपर पुलिस आयुक्त विशाल पांडे ने शनिवार को बताया कि मुजफ्फरनगर निवासी विकास बालियान समेत सैकड़ों पीड़ितों ने अदालत में आवेदन दिया था, कि बाइक बोट कंपनी के संचालक संजय भाटी सहित कई लोगों ने उनसे बाइक टैक्सी चलाने के नाम पर मोटी रकम ली, उक्त रकम को इन लोगों ने एक वर्ष में दोगुना करने का लालच दिया तथा करोड़ों की ठगी की।

उन्होंने बताया कि अदालत के आदेश पर दादरी में बीती रात को मुकदमा दर्ज हुआ है। उन्होंने बताया कि इस मामले में राजस्थान के नंदबई से विधायक जोगिंदर सिंह अवाना, शायर नदीम फारूक सहित 58 लोगों का नाम हैं। बताया जाता है कि बाइक बोट घोटाले का मुख्य कर्ताधर्ता संजय भाटी विधायक जोगिंदर अवाना का नजदीकी है।

विधायक जोगिंदर अवाना नोएडा के झुंडपुरा गांव के रहने वाले हैं। अवाना ने कहा कि इस फर्जीवाड़े से उनका कोई लेना-देना नहीं है और राजनीतिक कारणों से कुछ लोग उनका नाम इस घोटाले में घसीट रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह पूर्व में बसपा से जुड़े थे, तथा बाइक बोट घोटाले का आरोपी संजय भाटी भी बसपा से जुड़ा हुआ था, इसलिए उससे एक दो बार मुलाकात हुई है। गौरतलब है कि बाइक बोट कंपनी ने कथित तौर पर बाइक-टैक्सी में निवेश कराने के नाम पर लोगों से ठगी की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.