कूड़े के ढेर में आग लगाने वाले लोगों पर रहेगी बोर्ड की नजर, लगेगा भारी जुर्माना

ABHISHEK SHARMA

0 147

Greater Noida (08/10/19) : सर्दी की शुरुआत के साथ ही प्रदूषण का स्तर बढ़ना शुरू हो जाता है। जगह-जगह कूड़ा जलाए जाने से भी प्रदूषण में इजाफा होता है। इस बार सर्दियों में हालात नहीं बिगड़ें, इसके लिए उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (यूपीपीसीबी) ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है।

बोर्ड की टीमें रात के समय आग जलाने वालों पर नजर रखेंगी। इस संबंध में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को भी पत्र लिखा गया है। ग्रेटर नोएडा में सोमवार को वायु की गुणवत्ता 95 और ग्रेटर नोएडा वेस्ट में 100 रही। सर्दी के मौसम में इसका स्तर बढ़कर 500 तक पहुंच जाता है।



इतने प्रदूषित वातावरण में सांस लेना भी मुश्किल होता है। दमा के रोगियों को सबसे ज्यादा परेशानी उठानी पड़ती है। दिल्ली एनसीआर में आपातकाल जैसे हालात हो जाते हैं। दो साल पहले ऐसी स्थिति होने पर एनजीटी ने ग्रेडेड रेस्पांस एक्शन प्लान लागू किया था। उसके तहत स्थानीय प्रशासन को बढ़ते प्रदूषण की रोकथाम करनी थी।

यूपीपीसीबी के अफसरों का कहना है कि ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट में अलग-अलग टीमों को लगाया गया है। यह टीमें दिन के अलावा रात में भी नजर रखेंगी। यदि कोई कूड़ा जलाते पाया जाता है तो उस पर जुर्माना लगाने के साथ अन्य कार्रवाई भी की जाएंगी। इस संबंध में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को भी कार्य योजना बनाकर काम करने को कहा गया है। प्रदूषण का स्तर बढ़ने की स्थिति में निर्माण कार्य भी बंद कराए जा सकते हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.