ग्रेटर नोएडा : नौकरी छूटी तो फांसी लगाकर दे दी जान, मौके से सुसाइड नोट बरामद

0 69

कोरोना संकट काल के बाद अब अनलॉक की प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है, लेकिन उत्पादन की रफ्तार बेहद कम है। बाजार में मांग घट रही है। इन सबके चलते लोगों की नौकरियां दांव पर लगी है। काफी लोगों की नौकरियां जा चुकी है, जिसके चलते लोग बेहद परेशान हैं। ग्रेटर नोएडा में नौकरी छूटने के कारण एक व्यक्ति ने जान दे दी।

यह व्यक्ति फेस 2 स्थित एक कंपनी में नौकरी करता था पिछले दो-तीन हफ्ते से उसकी नौकरी छूट गई, जिस कारण उसने पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी।

पुलिस ने बताया कि आशुतोष कुमार महतो नामक व्यक्ति बरौला में रहता है, जो कि मृतक का चचेरा भाई है। उसने ईकोटेक 3 थाने में शिकायत दर्ज कराई है। उसने बताया कि मृतक उमाशंकर प्रसाद महतो पिछले 8 महीने से जलपुरा में किराए के मकान पर रहता था। उमाशंकर प्रसाद महतो फेस 2 क्षेत्र में एक फैक्ट्री में प्राइवेट नौकरी करता था।

पिछले दो-तीन हफ्ते से उसकी नौकरी छूट गई थी , जिसके चलते उमाशंकर प्रसाद महतो ने छत के पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। मृतक ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमें उसने परिवार से काफी मांगते हुए स्वयं को ही घटना का उत्तरदायी बताते हुए किसी को दोष नहीं देने की बात लिखी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.