गौतमबुद्धनगर : सभी कंटेनमेंट जोन में अधिकारियों की लगाई ड्यूटी , करेंगे मौके का मुआयना

Abhishek Sharma

0 228

Noida (16/06/2020) : कोरोना मरीजों के साथ-साथ कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। वर्तमान में जिले के कोरोना मरीजों की संख्या 1000 के पार पहुंच गई है। वहीं 236 क्षेत्र कंटेनमेंट जोन में तब्दील हो चुके हैं।

लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइन के अनुसार श्रेणी-1 के कंटेनमेंट जोन 250 मीटर और श्रेणी-2 के कंटेनमेंट जोन में 500 मीटर की सीमा सील है। वहीं अब कंटेनमेंट जोन में सील प्रक्रिया को उचित ढंग से परखने के लिए अधिकारियों की ड्यूटी भी सुनिश्चित की गई है।

जिला प्रशासन द्वारा जारी सूची के अनुसार ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज नोएडा में मिल रहे हैं। यहां गांव से लेकर शहर तक हर तरफ कोरोना वायरस फैल चुका है। इसके अलावा हेल्थ वर्कर भी रोजाना वायरस की चपेट में आ रहे हैं। इस समय सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित इंफ्लूएंजा से ग्रसित मरीज हो रहे हैं।

कंटेनमेंट जोन में किसी को भी घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। वहीं जिले में कोरोना का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट सेक्टर-8, 9 व 10 के अलावा हरौला, मामूरा समेत 12 स्थान हैं। यहां स्वास्थ्य विभाग द्वारा रोजाना हेल्थ कैंप लगाकर लोगों की स्क्रीनिग की जा रही है।

इसके अलावा हाउस टू हाउस सर्वे कर सैंपलिग और कंटेनमेंट में व्यवस्थाओं को परखने के लिए कर्मचारियों व अधिकारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है। जोकि प्रति दिन कंटेनमेंट जोन में व्यवस्थाओं का जायजा लेंगे और अव्यवस्था को दूर कराएंगे।

पिछले 18 दिनों में स्वास्थ्य विभाग इन क्षेत्रों में करीब साढ़े पांच हजार लोगों की स्क्रीनिग कर चुका है, जिनमें 200 से ज्यादा मरीज संदिग्ध मिल चुके हैं। सभी को सैंपल लेकर उन्हें क्वारंटाइन करा दिया गया है।

इसके अलावा भी इन क्षेत्रों में विशेष सावधानियां बरती जा रही है। लोगों का घरों से निकलना बंद है तथा शारीरिक दूरी का सख्ती से पालन कराया जा रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.