नोएडा के कोविड 19 अस्पताल में बाहरी जिलों के लोग करा सकते है ईलाज, स्वास्थ्य मंत्री अतुल गर्ग का बयान

ROHIT SHARMA

0 126

नोएडा :– सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज गौतमबुद्धनगर में कोरोना अस्पताल का उद्घाटन किया । आपको बता दे कि गौतमबुद्ध नगर जिले का सबसे बड़ा अस्पताल है. यहां सामान्य से लेकर गंभीर लक्षणों वाले मरीजों का इलाज होगा।

वही इस मामले में आज उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा कि इस अस्पताल में 400 बेड की सुविधा होगी. हालांकि, फिलहाल 168 बेड की सेवाएं ही उपलब्ध होंगी

साथ ही उन्होंने कहा कि अभी 28 डॉक्टरों को यहां नियुक्त किया गया है. अस्पताल का निर्माण नोएडा प्राधिकरण ने किया है. वहीं, कोविड-19 के उपचार की सभी सुविधाएं टाटा समूह और बिल गेट्स फाउंडेशन ने उपलब्ध करवाई हैं. अस्पताल कोविड-19 के इलाज की सभी सुविधाओं से लैस है।

अतुल गर्ग ने कहा कि नोएडा के कोविड-19 अस्पताल में डायलिसिस, आईसीयू, वेंटिलेटर और कॉलर एक्सरे की सुविधा उपलब्ध होगी।

बता दें कि कोरोना के मरीजों को ज्यादातर सांस लेने में तकलीफ होती है. ऐसे में उन्हें ऑक्सीजन की कमी से जूझना पड़ता है. ऑक्सीजन पूर्ति की सुविधाओं की कमी के चलते मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने बताया कि इस अस्पताल को मॉडल के रूप में विकसित किया गया है। साथ ही इसका फायदा बहुत से जिलों को मिलेगा , हापुड़ , बुलन्दशहर , गाज़ियाबाद के लोग यहाँ आकर अपना इलाज करवा सकते है । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए है कि हमे प्रदेश के साथ साथ जिले में भी डेथ रेट को 1 प्रतिशत से कम करना है । साथ ही मुख्यमंत्री सभी अधिकारियों के काम से सन्तुष्ट नज़र आए ।

वहीं, सीएम योगी ने उद्घाटन के दौरान कहा कि इसे पूरे पश्चिमी यूपी का सबसे बेहतर कोविड अस्पताल बनाया जाएगा।

अस्पताल का निर्माण नोएडा प्राधिकरण की ओर से किया गया है, जबकि टाटा समूह व बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन की ओर से करीब 17 करोड़ की लागत से अस्पताल में संसाधन जुटाए गए हैं।

यहां प्रथम तल पर आइसीयू व इमरजेंसी और पांचवें तल पर आइसोलेशन वार्ड बनाया गया. इसके अलावा द्वितीय तल पर डायलिसिस यूनिट व सिटी स्कैन की व्यवस्था की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.