श्री रामलीला कमेटी ने विजय महोत्सव के जरिए “सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त” भारत बनाने दिया सन्देश 

ABHISHEK SHARMA

0 53

Greater Noida (09/10/19) : ग्रेटर नोएडा के साइट-4 स्थित सेन्ट्रल पार्क में विजयमहोत्सव का आयोजन  श्री रामलीला कमेटी द्वारा कराया गया। कार्यक्रम के  मुख्य अतिथि जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने दीप प्रज्जलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। देश भक्ति पर आधारित सर्जिकल स्ट्राइक कार्यक्रम का भी इस दौरान प्रदर्शन दिखाया गया। लीला गणेश वंदना से प्राम्भ हुई, समुद्र तट पर वानर हनुमान जी के लौटने का इंतजार करते हैं और हनुमान लंका से वापस लौटकर श्री राम को सीता की खबर देते है। और तब श्री राम वानर सेना सहित समुद्र तट पर पहुंचते हैं। जहाँ वे रामेश्वरम की स्थापना करते हैं।



तब वहाँ पर शिव पार्वती के संवाद का चित्रण किया गया। नल नील और सभी वानर पुल बनाते हैं और सब समुद्र पार करके लंका पहुंचते हैं। जब रावण को सूचना मिलती हैं कि राम की सेना समुद्र तट पर पहुँच गई तो विभीषण भी रावण को समझाता हैं। तब रावण उसे भी लात मारकर लंका से निकाल देता हैं और विभीषण राम जी की शरण में चला जाता हैं। जिसके पश्चात राम उसका अभिषेक कर उसे लंका का राजा बनाने की घोषणा करते हैं।

श्री राम एक बार फिर रावण को समझाने  के लिए अंगद को भेजते हैं और रावण प्रहस्त का संवाद होता हैं और फिर रावण अंगद संवाद होता हैं। फिर मेघनाद लड़ने जाता हैं और लक्ष्मण को शक्ति लग कर राम दल में शोक छा जाता हैं। सुषेन वैद्य के बताने पर हनुमान जी संजीवनी लेने जाते हैं रास्ते में कालनेमि मिलता है उसको मारते है और संजीवनी वापस लाते वक्त भरत से मुलाकात होती है और लक्ष्मण फिर जीवित होते है फिर रावण कुम्भकर्ण को युद्ध के लिये जगाता है और जिसमे श्री राम कुम्भकर्ण, मेघनाद व रावण का वध कर सीता को हासिल कर। रावण का वध बुराई पर अच्छाई का सन्देश देता है।

सुंदर मंचन के बाद जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने रावण, कुम्भकर्ण, मेघनाथ के पुतलो का दहन कर समाज को बुराई पर अच्छाई का सन्देश दिया। इस मौके पर जूट के बने बैग  लोगों को बांटे गए। धीरेन्द्र सिंह ने लोगों को शपथ दिलाई की वे पर्यावरण को नुक्सान पहुँचाने वाली वस्तुओं का बहिस्कार करे।

इस मौके पर कमेटी के अध्यक्ष सरदार मंजीत सिंह, महासचिव बिजेंद्र सिंह आर्य, कोषाध्यक्ष मनोज गर्ग, सयुक्त महासचिव सौरभ बंसल, मीडिया प्रभारी विनोद कसाना समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.