डीएमआरसी से अनोखी होगी एनएमआरसी मेट्रो , कम किराया से लेकर यात्रियों को मिलेंगी सारी सुविधाएं

Rohit Sharma (Photo/Video) By Lokesh Goswami Ten News

0 300

नोएडा और ग्रेटर नोएडा को जोड़ने वाली एक्वा लाइन के बारे में टेन न्यूज़ टीम ने नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) के कार्यकारी निदेशक पी डी उपाध्याय से की खास बातचीत |

आपको बता दे की एक्वा लाइन पर मेट्रो का परिचालन नोएडा के सेक्टर 71 स्टेशन से शुरू होकर यह ग्रेटर नोएडा में डिपो स्टेशन पर खत्म होगा | इसके तहत 21 स्टेशनों से गुजरते हुए 29. 7 किमी की दूरी तय की जाएगी |

डीएमआरसी से कितनी अलग है एनएमआरसी की मेट्रो

नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) के कार्यकारी निदेशक पी डी उपाध्याय ने बताया की डीएमआरसी की मेट्रो से बहुत अलग है एनएमआरसी की मेट्रो | उनका कहना है की दिल्ली की मेट्रो में बहुत गेज होता है , लेकिन एनएमआरसी के मेट्रो में सेंटर्ड गेज है , जिसका फायदा यात्रियों को मिलेगा | साथ ही विश्वस्तरीय पर सभी स्टेशन पर काफी ज्यादा सुविधाएं उपलब्ध रहेगी |

वही एनएमआरसी के कार्यकारी निदेशक पीडी उपाध्याय ने बताया कि ‘सिटी – 1’ कार्ड के लिए एनएमआरसी ने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के साथ साझेदारी की है जिसका इस्तेमाल मेट्रो रेल, नोएडा नगर बस, पार्किंग और यहां तक कि शॉपिंग के लिए डेबिट कार्ड के रूप में किया जा सकेगा | उन्होंने बताया कि इस लाइन की एक और महत्वपूर्ण विशेषता यह होगी कि इसका एक मुफ्त मोबाइल ऐप्लीकेशन होगा जिसका इस्तेमाल यात्री प्रवेश करने और बाहर निकलने के लिए कर सकेंगे. ऐप में क्यूआर कोड होगा | जिसका इस्तेमाल यात्री प्रवेश और निकास के लिए कर सकेंगे |

खासबात यह है की एनएमआरसी नोएडा ग्रेटर नोएडा एक्वा लाइन मेट्रो रूट पर नया प्रयोग करने जा रहा है। इसमें मेट्रो का इंतजार कर रहे मुसाफिरों का एनएमआरसी रेडियो की मधुर धुन के जरिये मूड हल्का करने की योजना है। ऐसे में सभी स्टेशनों पर मधुर धुन के साथ-साथ मेट्रो आने जाने का अनाउंसमेंट भी होगा। धुन संस्कृति परिवेश के साथ मेल खाने वाली होगी। इससे सफर करने वाले मुसाफिरों को अलौकिक अनुभूति का एहसास कराया जा सकेगा। यहीं नहीं इस योजना में मधुर धुनों के बीच बीच में प्रत्येक स्टेशन की खासियत, शहर की तमाम ऐतिहासिक विरासत की विशेषताओं, चौक चौराहों की खासियत, तैनात अधिकारियों की उपलब्धियों से भी लोगों को अवगत कराया जाएगा।

वही दूसरी तरफ एनएमआरसी द्वारा चलाई जाने वाली मेट्रो में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए नोएडा-ग्रेनो मेट्रो कॉरिडोर पर महिला चालकों के हाथों में ट्रेन की कमान होगी। जिसमे 30 फीसदी से ज्यादा महिला चालकों की भर्ती की गई है। मेट्रो के दूसरे अन्य कार्यों के लिए भी महिलाओं की भर्ती की जा रही है। जिसको लेकर नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) के कार्यकारी निदेशक पी डी उपाध्याय ने बताया की ट्रेन के चालक के अलावा स्टेशन कंट्रोल, डिपो कंट्रोल, क्राउड कंट्रोल, टोकन काउंटर, हेल्प लाइन डेस्क व राजस्व प्रबंधन का कार्य भी महिलाएं करेंगी। इसके लिए डीएमआरसी और एनएमआरसी की ओर से स्पेशल ट्रेनिंग दी जाएगी। जिससे साफ हो जाता है की इस लाइन की पहली मेट्रो चलने में महिला चालक का भी सहयोग मिलेगा |

साथ ही उनका कहना है की 154 चालकों में से 54 महिला चालक होंगी। कोच के प्रत्येक चक्कर में मुसाफिरों की संख्या 700 के आसपास होगी। वहीं, एनएमआरसी ने फर्स्ट और लास्ट माइल कनेक्टिविटी विकसित कराने के लिए टेंडर निकाला है। यहां सभी मेट्रो स्टेशनों पर लोगों की पहुंच को आसान बनाने के लिए एनएमआरसी की ओर से कवायद की जा रही है ।

वही दूसरी तरफ कुछ मामलों में नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो दिल्ली मेट्रो से भी खास होने जा रही है। दरअसल, नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो का किराया दिल्ली-एनसीआर से कम होगा। जिसको लेकर नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) के कार्यकारी निदेशक पी डी उपाध्याय का कहना है की किराया भले ही अभी तय नहीं किया गया हो लेकिन नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने अपनी सेवाओं के लिए दिल्ली मेट्रो के मुकाबले किराया कम रखने का निर्णय लिया है।

साथ ही उनका कहना हैं की दिन और शाम के लिए नोएडा-ग्रेनो मेट्रो की एक्सप्रेस सर्विस के लिए नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनएमआरसी) सर्वे करेगा। इसमें लोगों से राय मांगी है । इसके बाद एक्सप्रेस सर्विस शुरू करने पर कोई निर्णय होगा। एक्सप्रेस सर्विस में मेट्रो खास चुनिंदा स्टेशनों पर ही रुकेगी।

वही इस मामले में एनएमआरसी के कार्यकारी निदेशक पीडी उपाध्याय ने बताया कि इसके लिए एनएमआरसी एक सर्वे करेगा। सर्वे का आठ पेज का फार्म एनएमआरसी की वेबसाइट पर उपलब्ध है। इसे लोगों को भरना होगा। उनसे यह राय लेने की कोशिश होगी कि नोएडा-ग्रेनो कॉरिडोर पर एक्सप्रेस ट्रेनें शुरू करना उचित होगा या नहीं। साथ ही, इससे यह भी पता चल पाएगा कि लंबी दूरी तक रोजाना यात्रा करने वाले कितने लोग हैं। इसी आधार पर ऐसी ट्रेनें शुरू करने पर फैसला होगा। इसके लिए www.nmrcnoida.com पर जाना होगा। वहां उपलब्ध लिंक पर क्लिक कर ऑनलाइन सर्वे भरने के बाद जमा करना होगा। इसका सर्वे 12 नवंबर तक होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.