पैदल घरों के लिए निकले लोगों को योगी सरकार ने दी राहत, 1000 बस पहुंचाएंगी लोगों को उनके घर

Abhishek Sharma

0 398

चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरा वायरस से जहां आज पूरा विश्व लड़ रहा है, तो वहीं ऐसे में भारत में भी 21 दिन का लॉक डाउन कोरोना से बचाव के लिए जारी है। कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव के लिए प्रधानमंत्री का देश में 21 दिन के लिए लॉकडाउन घोषित करना अपने घरों से दूर रह रहे मजदूरों के लिए सबसे ज्यादा चिंता का विषय बन गया है।

पैसा कमाने के लिए दूसरे राज्यों से आए मजदूर राजधानी से लगभग 300-400 किलोमीटर दूर के रहने वाले हैं। जो इस संकट की घड़ी में कोई बस या ट्रेन न होने के बावजूद पैदल ही दूरदराज के अपने इलाकों के लिए निकल पड़े हैं।

देश के हित में केंद्र सरकार द्वारा लिए गए इस निर्णय से ये लोग इसलिए दुखी हैं क्योंकि इन्हें भुखमरी का डर है। दूसरे राज्यों से आए इन दिहाड़ी मजदूरों के लिए राज्य सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है।

योगी सरकार ने यूपी बॉर्डर पर फंसे मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए 1000 बसों की व्यवस्था की है और साथ ही यूपी के सभी 75 जिलों में मदद के लिए डीएम, एसपी को निर्देश जारी किए।

इस निर्देश में योगी सरकार ने सभी लोगों को सुरक्षित घरों तक पहुंचाने की बात कही। साथ ही इनकी मदद के लिए 13.50 करोड़ रुपये की धनराशि भी जारी की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.