- Advertisement -

ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सेक्टर- 2 का अधिकारियों ने किया निरीक्षण, गुणवत्ता में कमी मिलने पर 2 फर्मो पर लगाया जुर्माना

Ten News Network

0 147

ग्रेटर नोएडा: महाप्रबंधक एके अरोड़ा और आरडब्ल्यूए के पदाधिकारियों ने आज ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सैक्टर -2, ई – ब्लॉक का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान आवासीय सैक्टर में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा दिए गए मूलभूत सुविधाएं जैसे कि सडक, ड्रेनेज सीवरेज, जलापूर्ति पथ प्रकाश व्यवस्था, सफाई व्यवस्था एवं उद्यानिक कार्यों की समीक्षा की गयी।

निरीक्षण कर रहे प्रतिनिधियों ने सेक्टर वासियों की समस्याओं को सुना तथा लोगों की समस्याओं पर विस्तृत चर्चा की गई। चर्चा के दौरान सेक्टर वासियों ने अपनी-अपनी समस्याओं के बारे में अधिकारियों को बताया। साथ ही सभी सैक्टरवासियों द्वारा अवगत करायी गयी समस्याओं का निराकरण स्थल पर कराया गया तथा आवश्यकतानुसार दीर्घकालीन समस्याओं जैसे छतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत, ड्रेन, सीवर, जलापूर्ति, विद्युत एवं उद्यानिक कार्यों के साथ-साथ सैक्टर की समुचित रूप से साफ-सफाई कराये जाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये गये।

अधिकारियों द्वारा सेक्टर में चल रहे विभिन्न फर्मों द्वारा मरम्मत के कार्यों का भी निरीक्षण किया गया जिसमें उद्यानिकी कार्यो की गुणवत्ता मानकों के अनुरूप नहीं पाई गई तथा कार्य स्थल पर वर्कमैनशिप भी मानकों के अनुरूप नहीं पाई गई। जिसको देखते हुए ग्रीन वैली कंस्ट्रक्शन एवं ग्रीन लीवस पर 50 – 50 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया। जिसकी कटौती फर्मों के आगामी बीजकों से की जायेगी।

साथ ही फर्म के प्रतिनिधियों को निर्देशित किया गया है कि कार्य स्थल पर कराये गये कार्यों में पायी गयी समस्त कमियों को दूर करते हुए मानकों के अनुसार उच्च गुणवत्ता के साथ कार्य सम्पादित करें तथा यह भी सुनिश्चित कर लें कि भविष्य में इस प्रकार की गलती दोबारा ना हो पाए नहीं तो कॉन्ट्रैक्ट की शर्तों के अनुसार फर्म के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही की जाएगी जिसके लिए फार्म खुद ही जिम्मेदार होगी। इसके साथ ही आवासीय सैक्टर में आवश्यकतानुसार मूलभूत सुविधाओं सम्बन्धी कराये जाने वाले विकास एवं अनुरक्षण कार्यों को उच्च गुणवत्ता के साथ कराये जाने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.