नोएडा में आयोजित रोजा इफ्तार पार्टी में पेश की गई भाईचारे की मिसाल

766

Noida (21/05/19) : रमजान के इस पाक महीने में अब इफ्तार पार्टी का दौर शुरू हो गया है। शहर में किस्म-किस्म की इफ्तार पार्टियां हो रही हैं। नोएडा के सेक्टर-75 स्थित गोल्फ एवेन्यू-2 सोसाइटी में हिन्दू लोगों द्वारा आयोजित रोजा इफ्तार पार्टी मे हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे की मिसाल देखने को मिली।

शनिवार को आयोजित रोजा इफ्तार पार्टी में सभी धर्मों के लोगों ने शिरकत किया और सभी ने एक साथ मिलकर रोजा इफ्तार किया, और अमन चैन की दुआएं मांगी। वहीं सोसाइटी के निवासियों का कहना है कि यहां पर पहली बार रोजा इफ्तार पार्टी रखी गई है। इस रोजा इफ्तार पार्टी में करीब 40 परिवारों ने शिरकत की, और बड़े अमन-चैन से इस पार्टी का आयोजन किया गया। लोगों का मानना है कि इस तरह के आयोजन करने से आपस में भाईचारा बढ़ता है।

हालांकि, कुछ वर्षो से इफ्तार पार्टी ने सियासी रूप धारण कर लिया। इस तरह की इफ्तार पार्टी नेता और समाज में असरदार लोग देते थे। इन इफ्तार पार्टियों का मकसद समाज में अपना असर-रसूख बढ़ाना होता है। इन इफ्तार पार्टियों में रोजेदारों को तवज्जो नहीं दी जाती बल्कि नेताओं और असरदारों की ही आवभगत होती है। उलेमा ऐसी इफ्तार पार्टियों का विरोध करते हैं। समाज में अब ऐसी इफ्तार पार्टियां कम हो रही हैं।



पहले घरों के छोटे बच्चों की रोजा कुशाई होती थी। जब बच्चा पहला रोजा रखता था कि घर में इफ्तार का ढेर सारा सामान तैयार कर इफ्तार पार्टी दी जाती थी। घर की इस इफ्तार पार्टी में महिलाएं भी शामिल होती थीं। कुछ लोग ढेर सारा इफ्तार बना कर मोहल्ले में बांटते थे। लेकिन, अब रोजा कुशाई का दौर खत्म हो गया है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.