प्रदुषण फैलाने पर नोएडा-ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने लगाया लाखों का जुर्माना

ABHISHEK SHARMA

0 91

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ रहा है। जिसके चलते लोगों को तरह तरह की समस्याएं हो रही हैं। वहीं, नोएडा-ग्रेटर नोएडा में प्रदूषण फैलाने पर दो बिल्डरों पर 5-5 लाख का जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा ग्रेटर नोएडा में दो आरएमसी प्लांट व स्कूल पर 1.70 लाख का जुर्माना लगाया गया है।

सभी प्रदूषण की रोकथाम के लिए एनजीटी की तरफ से जारी दिशा निर्देशों का पालन नहीं कर रहे थे। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि एनजीटी के नियमों का पालन नहीं करने, वायु प्रदूषण रोकने के उपायों पर अमल नहीं करने के आरोप में राइस बिल्डर्स पर 5 लाख का जुर्माना लगाया गया है।

बिल्डर ने इस साइट पर ग्रीन कवरिंग नहीं कराई थी। साथ ही एंटी स्मॉग गन भी नहीं लगी हुई है। इसके अलावा आरएमसी प्लांट के संचालक समरजीत दास जस्ट क्वालिटी कंक्रीट खेड़ा चौगानपुर पर एक लाख और दयानंद खेड़ा चौगानपुर पर 50 हजार का जुर्माना लगाया है। दोनों प्लांट बंद करा दिए गए हैं।

प्राधिकरण ने बेंथनी कॉन्वेंट स्कूल सेक्टर डेल्टा टू पर ₹20000 का जुर्माना लगाया है। नोएडा में क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी प्रवीण कुमार ने बताया कि सेक्टर 150 में बिल्डर की कंस्ट्रक्शन साइट पर धूल उड़ रही थी, ऐसी लापरवाही से प्रदूषण का स्तर बढ़ता है।

बिल्डर से ₹5 लाख जुर्माना वसूल करने की कार्रवाई सिटी मजिस्ट्रेट की ओर से सुनिश्चित की जाएगी। इसी तरह नोएडा प्राधिकरण ने एनजीटी के नियमों का उल्लंघन और प्रदूषण फैलाने पर अलग-अलग एजेंसियों पर ₹62000 का जुर्माना लगाया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.