नौकरी न देने पर प्राधिकरण में पूर्व संविदा कर्मचारी ने खाया ज़हर

Abhishek \ Saurabh Kumar

0 179

Greater Noida (15/3/2019) : ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ के सामने आज पूर्व संविदा कर्मचारी ने कोल्ड ड्रिंक के साथ जहरीला पदार्थ खा लिया। पिछली साल एक्सीडेंट होने के चलते पीड़ित के दोनों पैर टूट गए थे। पीड़ित पूर्व संविदा कर्मचारी के मुताबिक लगातार प्राधिकरण में नौकरी वापस पाने के चक्कर लगा रहा था। नौकरी न देने से परेशान होकर रिंकू नागर (27) नाम के कर्मचारी ने जहर खाया है। ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्वेदिक कांशीराम हॉस्पिटल मे भर्ती कराया गया है।

मूल रूप से कनारसी गाँव के रहने वाला पीड़ित रिंकू किराए के मकान में दादरी में रहता है। उसने बताया कि वह पिछले पांच साल से ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में संविदा कर्मचारी के तौर पर कार्यरत था। पिछले साल एक दिन वह प्राधिकरण से रात को घर जा रहा था जहां कुछ लड़को ने उसके साथ मारपीट कर दी थी, जिसमे उसके दोनों पैर टूट गए थे।

उन्होंने आगे प्राधिकरण पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब वह नौकरी के लिए वापस प्राधिकरण लौटा तो उसे नौकरी नहीं दी गई और प्राधिकरण से निकाल दिया गया। जिसके बाद बुलंदशहर के सांसद भोला सिंह से भी 2 बार नौकरी वापस देने के लिए पत्र लिखवाकर लाया था फिर भी प्राधिकरण ने उसे नौकरी देने से इनकार कर दिया।

रिंकू ने आगे बताया कि उसने 4 बार उत्तर प्रदेश सरकार के जनसुनवाई पोर्टल पर और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के मित्रा एप्प पर भी नौकरी दिलाने के लिए सिफारिश की। उन्होंने बताया कि आज सुबह करीब 11 बजे प्राधिकरण गए और सीईओ से मिलने की कोशिश की लेकिन उन्हें मिलने नहीं दिया गया। जिसके बाद उन्होंने आत्मदाह के लिए पात्र लिखा और कोल्ड ड्रिंक के साथ नशीला पदार्थ खा लिया।

राजकीय आयुर्वेदिक संस्थान के डायरेक्टर डॉ राकेश गुप्ता ने बताया कि 1 बजे के करीब रिंकू को यहां पर लेकर आया गया। जहां आईसीयू में उसका उपचार किया गया। फिलहाल वह सुरक्षित है। उन्होंने बताया कि रिंकू को पुलिस और प्राधिकरण के कुछ अधिकारी अस्पताल लेकर आए थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.